Financial Planning

FINANCIAL PLANNING IN HINDI

दोस्तों, FINANCIAL PLANNING कितना जरुरी है,

आइए देखते है,

हम सभी को अपनी लाइफ में खूब सारा पैसा चाहिए होता है,जिससे कि हम अपनी मनपसंद जिंदगी को जी सकें,

अपने सपनों को पूरा कर सकें,मनपसंद घर, मनपसंद गाड़ी,

मनपसंद जगह पर ढेर सारा घूम सके,और ढेर सारी मनपसंद चीजें भी खरीद सके,

यानी हमें लाइफ में खूब सारे पैसे चाहिए होते हैं, ताकि हम अपनी मनपसंद लाइफ को जी सकें,

लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि हम में से कितने लोग ऐसा कर पाते हैं ?

कितने लोग अपनी मनपसंद जिंदगी को जी पाते हैं

और कितने लोग बढ़ती उम्र के साथ अपने हर सपने से कंप्रोमाइज करते ही हुए जीने लगते हैं ?

तो इसका जवाब होगा कि सिर्फ 1% या कहें 1% से भी कम लोग ही ऐसा कर पाते हैं,

यानी हजारों लोगों में गिनती 2 से 4 लोग ही अपनी मनपसंद लाइफ को जी पाते हैं,

और बाकी 99% लोग, बस अपने सपनों से धीरे-धीरे कंप्रोमाइज करते हुए जिंदगी जीना सीख लेते हैं,

क्योंकि ऐसा करना आसान होता है, और ज्यादातर लोग भी यही कर रहे होते हैं,

इसलिए अपने आप को को यह समझाना बहुत आसान होता है कि होता है कि, जब सब लोग अपनी लाइफ को ऐसे ही जी रहे हैं, तो हम कौन से अलग हैं,

हमें भी वैसा ही करना चाहिए, जैसे ज्यादातर लोग कर रहे हैं,

और बस इसी सोच और समझ की वजह से हम में से ज्यादातर लोग अपनी जिंदगी में 50 साल तक आते आते भी वैसा कुछ भी नहीं कर पाते हैं,

जो हम में से ज्यादातर लोग 25 साल की उम्र में कुछ करने का सोचते हैं,

अगर आज आपकी एज 25 या 25 से कम है, तो भी आप इस बात को यह मानकर चलिए कि एक दिन आप भी 25 साल के हो जाएंगे हो जाएंगे

जब आप अपने करियर की शुरुआत कर रहे होंगे,

उस 25 साल की उम्र में पढ़ाई लिखाई कंप्लीट करने के बाद अपने जॉब की शुरूआत करते समय आपके मन में ढेर सारे सपने होते हैं,

और हम में से हर एक को यही लगता है, कि हम वह सपना जरूर पूरा कर लेंगे,

लेकिन अगर आप लोगों की जिंदगी को ध्यान से देखते हैं तो आप देखेंगे कि 50 से 60 साल की उम्र तक आते आते हम में से सिर्फ एक पर्सेंट लोग ही उन सपनों को पूरा कर पाते हैं,

जो हमने 25 साल की उम्र में सोचा था,

और लगभग 99% लोग बसे आम से जिंदगी गुजार देते हैं,

क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों होता है,

क्यों कुछ लोग ही अपने सपनों को पूरा कर पाते हैं,

और क्यों बाकी लोग इतनी पीछे रह जाते हैं,

आखिर ऐसा क्या रीजन है,

ऐसा क्या कारण है कि सिर्फ एक पर्सेंट लोग ही मनचाही सफलता हासिल कर पाते हैं,

और 99% लोगों को एक आम सी जिंदगी गुजारनी पड़ती है,

दोस्तों इसका जवाब है FINANCIAL EDUCATION

FINANCIAL EDUCATION यानी पैसों को लेकर को लेकर हमारी सोच और समझ,
सारा अंतर सिर्फ इसी बात का होता है कि पैसे के बारे में हमारी सोच समझ कैसी है,

हम लोगों में से सिर्फ वही आदमी आर्थिक सफलता को हासिल कर पाता है, जो पैसा और पैसे की समाज अच्छी रखता रखता है

तो अगर सारा अंतर फाइनेंसियल एजुकेशन का होता है,

तो क्या FINANCIAL EDUCATION के बारे में सीख और  समझ कर तथा इसका इस्तेमाल करके हम भी अपने सारे सपनों को पूरा कर सकते हैं,

और जीवन में आर्थिक सफलता हासिल कर सकते हैं,

तो जवाब है बिल्कुल हां,

हम FINANCIAL EDUCATION की हेल्प से आर्थिक सफलता हासिल कर सकते हैं,

अब आप समझ सकते है कि FINANCIAL EDUCATION की हमारी लाइफ में कितनी ज्यादा जरुरत है.

और अब सवाल आता हे कि FINANCIAL EDUCATION क्या होता है,

आइए जानते हैं कि फाइनेंसियल एजुकेशन क्या क्या चीजें शामिल है, जो हमें सीखनी होती है,

  1. Finance,
  2. Financial Planning
  3. Financial Freedom,
  4. Money,
  5. Income,
  6. Budget
  7. Investment
  8. Assets
  9. Liabilities
  10. Power of Compounding,

Financial Planning क्या है? (What is Financial Planning?)

FINANCIAL GOALS – वित्तीय लक्ष्य क्या होता है?

Financial Planning की जरुरत क्यों है? (Why Financial Planning is needed?

Financial Planning हमें किस प्रकार से लाभ पहुचता है? (How Financial Planning help us?)

Financial Planning कितने प्रकार की होती है? (Types of Financial Planning)

Financial Planning पहले ध्यान रखने वाली बाते (Things to care before Financial Planning)

Financial Planning की शुरुआत कब करे? (When to start Financial Planning?)

Financial Planning कैसे करे? (How to do Financial Planning?)

Financial Plan बनाने के 6 कदम, (6 step to make financial Plan)

Financial Planning करने के लिए क्या आपको Financial Planner जरुरत है?