कछुआ और खरगोश www.sharemarkethindi.com

कछुआ और खरगोश -पंचतंत्र की कहानी और निवेश

Print Friendly, PDF & Email

पंचतंत्र की कहानी और निवेश

कछुआ और खरगोश – दोस्तों, पंचतंत्र की छोटी छोटी कहानिया हम सभी को बचपन से ही बहुत अच्छी लगती है,

क्योकि ये कहानिया बहुत छोटी और आसानी से समझ में आने वाली होती है,

और हर कहानी से हमें, अपने जीवन को बेहतर बनाने की, एक सच्ची सीख भी मिलती है,

निवेश के पंचतंत्र कहानियो की इस सीरिज में SHAREMARKETHINDI.COM की तरफ से आज हम एक ऐसी ही कहानी के बारे में बात करने जा रहे है,

कहानी का नाम है –

कछुआ और खरगोश

एक जंगल में एक कछुआ और खरगोश रहते थे, खरगोश को अपने तेज भागने पर बहुत गर्व था, खरगोश कछुए से हमेशा बोलता रहता था – ए कछुए, अगर तुम मुझसे Race लगाओ तो तुम्हे मै हर बार हरा दूंगा,

कछुए ने खरगोश से कहा – चलो फिर Race लगा कर देखते है, कौन जीतता है ?

फिर कछुए और खरगोश की Race शुरू हुई,

और जैसा कि आप सभी को पता है- रेस शुरू होने पर खरगोश एकदम तेज भागता है, और मंजिल से पहले सोचता है – कछुआ तो अभी बहुत पीछे है, चलो थोडा आराम कर लिया जाये, और वो थोड़ी देर के लिए सो जाता है,

और दूसरी तरफ कछुआ लगातार अपनी चाल चलते हुए इस रेस में खरगोश से पहले मंजिल तक पहुच जाता है,

और इस तरह – कछुआ बहुत धीमी चाल होने के बावजूद , तेज भागने वाले खरगोश से रेस जीत जाता है,

दोस्तों, ये कहानी हमने कई बार सुनी होगी, और हम सभी को याद है

और, इस कहानी की सीख भी आपको जरुर याद होगा  –

SLOW AND STEADY WINS THE RACE

धीमे मगर नियमित चाल चलने से भी बड़ी रेस जीती जा सकती है,

और ठीक इसी तरह,

हमारे जीवन की इस RACE में अगर हम छोटे छोटे मगर नियमित, और अनुशासित निवेश करते है, तो COST AVERAGE तथा POWER of COMPOUNDING का लाभ मिलने से हम बड़े से बड़े लक्ष्य को प्राप्त कर सकते है,

जैसे – अगर कोई व्यकित हर महीने सिर्फ 1000 रूपये का निवेश करता है, चाहे वो म्यूच्यूअल फण्ड का SIP हो या निवेश का कोई अन्य विकल्प,

अगर उस व्यकित को 1000 रूपये के मंथली निवेश पर 18% वार्षिक लाभ मिलता रहता है, और बिना फण्ड को बीच में निकाले, रेगुलर 30 साल तक निवेश कर दिया जाये तो रिजल्ट कुछ ऐसा होगा –

1000 रूपये हर महीने, समय 30 साल

कुल निवेश = 3,60,000/-

और निवेश पर लाभ 18% वार्षिक COMPOUNDED

30 साल बाद मिलने वाली कुल राशी = लगभग 1 करोड़ 4 लाख रूपये,

दोस्तों,

उम्मीद करता हु, इस छोटी सी कहानी से आपको ये समझ आया होगा कि –

किसी भी तरह के निवेश में हमें अपने लक्ष्यों को ध्यान में रखते हुए, अपनी कमाई की क्षमता का कम से कम 10 से 20% जरुर, नियमित लाभ वाले निवेश के लिए लगातार अनुशाषित रूप से करते रहना चाहिए,

और इस तरह के छोटे छोटे मगर नियमित लाभ से हम बड़े से बड़ा फाइनेंसियल GOAL भी पूरा कर सकते है,

दोस्तों, बचत, निवेश और स्टॉक मार्केट से समबन्धित बहुत सारी जानकारी आप हमारी ब्लॉग और वेबसाइट SHAREMARKETHINDI.COM पर भी पढ़ सकते है,

 

MUTUAL FUND – हिंदी गाइड पार्ट -1 

 History of Mutual Fund  हिंदी गाइड पार्ट -2

म्यूच्यूअल फण्ड के फायदे – हिंदी गाइड पार्ट -3

 म्यूच्यूअल फण्ड कैसे बनाया जाता है- हिंदी गाइड पार्ट -4

म्यूच्यूअल फण्ड में NAV क्या होता है ? हिंदी गाइड पार्ट -5

Types of Mutual Fund- हिंदी गाइड पार्ट 6

म्यूच्यूअल फण्ड में जमा पैसा कैसे निकाले,– हिंदी गाइड पार्ट 7

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.