पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु Bank Loan Borrower death consequences www.sharemarkethindi.com

पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर क्या बैंक लोन को माफ़ कर देती है ?

Print Friendly, PDF & Email

पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर क्या होगा ?

आम आदमी के मन में पर्सनल लोन से जुड़ा एक महत्वपूर्ण सवाल ये आता है कि –

क्या पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर क्या बैंक लोन को माफ़ कर देती है ?

तो इसका जवाब है – “नहीं”

बैंक द्वारा पर्सनल लोन की वसूली

अगर आप बैंक से पर्सनल लोन लेते समय ध्यान से बैंक के Term and conditions को पढ़ते है तो आप ये बात अच्छी तरह से समझ जायेगें कि –

बैंक पर्सनल लोन देते समय ही इस बात को सुनिश्चित कर देती है कि – अगर पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उस लोन को आगे कौन चुकाएगा ?

पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर, बैंक उस लोन को, अलग अलग तरीको से वसूल कर सकती है,

आम तौर पर बैंक पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर, तीन तरह के केस होते है?

पहला – पर्सनल लोन, के अमाउंट तक का एक इनुसुरांस कवर बैंक पहले ही ले लेती है, जिसका प्रीमियम पर्सनल लोन लेने वाले व्यकित से लिया जाता है ?

तो अगर पर्सनल लोन के अमाउंट का इन्सुरांस बैंक ने पहले ही ले लिया हुआ है, तो बैंक इन्सुरांस कंपनी से लोन अमाउंट की वसूली कर लेती है,

दूसरा – अगर बैंक ने पर्सनल लोन, के अमाउंट तक का कोई भी सम्पति (सोना, घर या प्लाट के पेपर, शेयर, फिक्स्ड डिपाजिट) अपने पास गिरवी रखने के बाद पर्सनल लोन दिया हुआ है तो ऐसे केस में बैंक उस सम्पति को बेच कर अपने पैसे की वसूली कर सकती है,

तीसरा – अगर बैंक ने पर्सनल लोन, के अमाउंट तक का कोई भी इन्सुअरंस नहीं लिया है, और ना ही कोई सम्पति गिरवी रखी है, तो ऐसे केस में बैंक के पास अपने लोन को अमाउंट की वसूली तीन लोगो से कर सकती है –

पहला – पर्सनल लोन के guarantee देने वाले व्यक्ति से,

या फिर,

दूसरा – पर्सनल लोन के Co- Applicant (Husband/Wife/Other) व्यक्ति से,

या फिर,

तीसरा – पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की सम्पति के उत्तराधिकारी बेटे बेटियों या फिर वसीयतनामे के अनुसार पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की सम्पतियो के उत्तराधिकारियों से,

सम्पतियो और दायित्वों का उत्तराधिकारी

ध्यान दे :

भारतीय कानून के अनुसार, वसीयत नाम के अनुसार या कानूनी उत्तराधिकारी जो किसी व्यक्ति की मृत्यु होने पर उसके सम्पति का उत्तराधिकारी होता है, तो साथ ही साथ वह व्यक्ति उस मृत व्यक्ति के दायित्वों का भी उत्तराधिकारी माना जाता है,

तो इसलिए, अगर कोइ व्यक्ति पर्सनल लोन लेते है और उसकी मृत्यु हो जाती है, तो ऐसे में उस लोन को चुकाने की जिम्मेदारी उस व्यक्ति के उत्तराधिकारी के ऊपर आ जाता है, उत्तराधिकारी आम तौर पर उस व्यक्ति के परिवार वाले ही होते है,

आशा है,

इस पोस्ट से आप समझ पायें होंगे कि – क्या पर्सनल लोन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर क्या बैंक लोन को माफ़ करेगी या नहीं, तो इसका सिंपल सा जवाब है, नहीं,

आम तौर पर कोई भी बैंक अपने कर्जे सिर्फ मृत्यु हो जाने पर कोई भी लोन माफ़ नहीं करती, और इसलिए हर बैंक अपने लोन की , कानूनी तरीको से वसूली करती है,

पोस्ट पूरा पढने के लिए आपका धन्यवाद,

  1. पर्सनल फाइनेंस क्या होता है?
  2. इनकम क्या होता है?
  3. Types Of Income
  4.  फाइनेंसियल फ्रीडम क्या होता है ?
  5. NET WORTH क्या होता है?
  6. POWER OF COMPOUNDING क्या है?

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.