Direct Mutual Fund Kya hai Kaise nivesh kare

Direct Mutual Fund क्या है, कैसे निवेश करे?

डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड

आज के इस पोस्ट में आप जानेंगे – DIRECT MUTUAL FUND क्या होता है और इसमें कैसे निवेश कर सकते है, डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने के क्या फायदे होते है, और DIRECT MUTUAL FUND में निवेश करते समय किस तरह की सावधानी की जरुरत है?

तो आइये सबसे पहले जानते है –

DIRECT MUTUAL FUND क्या होता है?

डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्डका सीधा सा मतलब है, इस तरह के म्यूच्यूअल फण्ड में बीच में कोई भी एजेंट नहीं है,

आम तौर पर सभी म्यूच्यूअल स्कीम में दो तरह से निवेश किए जा सकते है – DIRECT (बीच में कोई एजेंट नहीं) या REGULAR (बीच में एजेंट, जो निवेश की रकम से कुछ फीस कमीशन)

अब जैसा कि आप जानते है MUTUAL FUND एक निवेश की स्कीम होती है, जिसमे अलग अलग लोग निवेश करते है, और इस स्कीम में जमा सभी राशी को उस स्कीम के पहले से तय ऑब्जेक्टिव के अनुसार उस स्कीम का मेनेजर स्टॉक मार्केट और दुसरे बांड्स और सिक्योरिटीज में निवेश कर देता है,

तो अब जब अलग अलग लोग किसी म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करना चाहते है तो उनके पास दो रस्ते है, या तो वे म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम की पैरेंट कंपनी के पास सीधा जाये, और वहा जाकर वो सीधे DIRECT MUTUAL FUND में निवेश कर दे,

जैसे – अगर आप UTI NIFTY INDEX FUND (म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम) में निवेश करना चाहते हैतो आपके पास पहला रास्ता है कि आप सीधे UTI म्यूच्यूअल फण्ड की ऑफिस या उनकी वेबसाइट पर जाकर सीधे सीधे निवेश करे, और DIRECT का विकल्प चुने,

और, इसके आलावा दूसरा तरीका ये है कि – आप सीधे म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी के पास ना जाकर किसी फाइनेंसियल एडवाइजर के पास जाते है, या फिर किसी फाइनेंसियल इन्वेस्टमेंट कंपनी के पास जाते है, और वह आपके लिए अलग अलग म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में निवेश करने के बारे में सलाह देते है, तो अक्सर ऐसे केस में आपका म्यूच्यूअल फण्ड निवेश रेगुलर स्कीम में निवेश किया जाता है, और आपके फाइनेंसियल एडवाइजर/निवेश कंपनी का बीच में एक कमीशन होता है,

यहाँ तक कि अगर आप किसी बैंक के माध्यम से निवेश करते है तो बैंक खुद एक एजेंट के रूप में कार्य करता है और आप किसी बैंक के माध्यम से चाहे तो किसी भी दूसरी कंपनी की म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी में निवेश कर सकते है,

जैसे – अगर आप SBI बैंक जाते है और कहते है कि आपको म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करना है तो SBI बैंक के कर्मचारी आपको कई अलग अलग स्कीम के बारे में बताते है जो आम तौर पर रेगुलर म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में निवेश करने का विकल्प देते है, जब तक कि आप खुद डायरेक्ट स्कीम में निवेश करने के लिए जोर न दे,

अब सवाल ये आता है कि डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने के वास्तव में क्या फायदे है?

तो आइए जानते है –

DIRECT MUTUAL FUND में निवेश के फायदे

डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश का सबसे बड़ा फायदा ये है कि आप इसमें कमीशन के रूप में जो पैसा आपके निवेश से एजेंट के पास जाता है, उसका सीधा लाभ आप खुद ले सकते है,

आम तौर पर DIRECT MUTUAL FUND और REGULAR MUTUAL FUND की फीस में 1% से 2% तक फर्क हो सकता है,

और लम्बे समय में ये 1% से 2 % का फर्क लाखो में हो सकता है,

आप इस विडियो में इस फर्क को देखकर समझ सकते है कि 1 % से किसी निवेश में कितना बड़ा फर्क आ सकता है,

डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश के समय सावधानी की जरुरत,

आइए बात करते है कि डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करते समय किस तरह की सावधानी रखने की जरुरत है, क्योकि अब वैसे तो डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने के फायदे ही फायदे है और फिर तो सभी को डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में ही निवेश करना चाहिए,

लेकिन नहीं, ऐसा नहीं है,

डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश तभी करना सही है जब आपको –

  • पूरी तरह से पता हो कि आपको किस फण्ड में निवेश करना करना है,
  • जब आप अपने पोर्टफोलियो को मैनेज करना जानते है,
  • जब आप म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश के रिस्क को पूरी तरह से समझते है,
  • जब आप जानते है कि उस म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में कुछ बदलाव कैसे किया जा सकता है, और
  • म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम से किस तरह बेहतर लाभ निकाल के कब और कैसे बेचा जा सकता है,

दुसर तरफ अगर आप ये सब कुछ नहीं कर सकते तो आपके लिए बेहतर है कि आप किसी अच्छे SEBI REGISTERED म्यूच्यूअल फण्ड Advisor के पास जाकर किसी रेगुलर म्यूच्यूअल फण्ड में ही निवेश करे, क्योकि अगर आप रेगुलर म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करते है तो आपको कुछ विशेष लाभ मिलते है …

जैसे –

  • आपको ये बताया जाता है कि आपको किस म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करना चाहिए,
  • आपका एजेंट आपके पोर्टफोलियो के बारे में आपको जरुरी जानकारी देता है,
  • आप अपने एजेंट के साथ निवेश के बारे में सलाह मशविरा कर सकते है,
  • एजेंट आपको म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में कुछ बदलाव या किसी अन्य तरह की जरुरत पड़ने पर आपकी मदद करता है,

तो यहाँ तक ये क्लियर हो गया कि DIRECT MUTUAL FUND क्या होता है, इसके क्या फायदे है और इसमें आपको निवेश करते वक्त आपको क्या सावधानी रखनी चाहिए….

अब बात करते है कि आप डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड में कैसे निवेश कर सकते है,

डायरेक्ट म्यूच्यूअल फण्ड में कैसे निवेश कर सकते है

ध्यान दीजिए कि जैसे मैंने पहला कहा DIRECT MUTUAL FUND में निवेश करने के लिए आपको या तो म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी की नजदीकी ऑफिस या ब्रांच में जाना है और वहा म्यूच्यूअल फण्ड का फॉर्म भरते समय डायरेक्ट (DIRECT) का विकल्प चुनना है

या फिर अगर आप म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी की वेबसाइट पर या म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी के मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से भी निवेश शुरू कर सकते है,

अधिक जानकारी के लिए आपको जिस म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में निवेश करना है, उस कंपनी के customer care से एक बार जरुर बात करे, या उनकी वेबसाइट् पर जाकर इसके बारे में जरुर पता करे ….

इसके आलावा, आजकल बहुत सारी दुसरे विकल्प है जो आपको तुरंत और आसानी से DIRECT MUTUAL FUND में निवेश करने का विकल्प देते है,

जैसे – GROWW, PAYTMMONEY, ZERDOHA COIN और भी बहुत से,

तो मै आशा करता हु कि इस पोस्ट को पढ़ कर आपके मन DIRECT MUTUAL FUND के सभी प्रश्नों के जवाब मिल गए होंगे, आप कमेन्ट करके अपने सवाल और विचार को हम तक जरुर पहुचाये,

पोस्ट पूरा पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद.

 

Comment on This Post

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.