फाइनेंसियल फ्रीडम - Financial Freedom www.sharemarkethindi.com

फाइनेंसियल फ्रीडम क्या होता है ?

Print Friendly, PDF & Email

Financial freedom

फाइनेंसियल फ्रीडम का हिंदी अर्थ होता है – वित्तीय आजादी,

और आम भाषा में कहे तो – पैसे कमाने की चिंता से आजादी,

यानी पैसे के लिए काम करने की चिंता से आजादी,

फाइनेंसियल फ्रीडम का महत्व

फाइनेंसियल फ्रीडम के महत्व को समझाने के सलए आज मै आपको जगजीत सिंह की एक बहुत पोपुलर गीत की दो लाइन को याद दिलाना चाहुंगा –

ये दौलत भी ले लो, ये शोहरत भी ले लो,

भले छीन लो- मुझसे मेरी जवानी,

मगर मुझको लौटा दो –

बचपन का सावन, वो कागज की कश्ती,

वो बारिश का पानी

इस गीत में जीवन की एक बहुत बड़ी सच्चाई छुपी हुई, जिसे समझने की हमें बहुत ज्यादा जरुरत है-

आज हम सभी के पास कितना कुछ है, बहुत कुछ है,

बचपन में जितना हुआ करता था, शायद उससे कही ज्यादा और बहुत ज्यादा,

लेकिन फिर भी बचपन में जो बात थी,

जो ख़ुशी थी, जो जिंदगी थी, वो अलग ही था,

इस RAT RACE में भागते भागते हम चाहे जितना भी कमा ले, जितना कुछ भी पा ले, फिर भी वो बचपन वाली खुशी मिलना बहुत मुश्किल लगता है,

आपसे एक सवाल –

आप सबसे ज्यादा खुश कब थे ? बचपन में या अभी ?

तो यक़ीनन आपका जवाब होगा –

आप बचपन में ही ज्यादा खुश रहे है,

चाहे वो आपका स्कूल हो या कॉलेज,

अब ऐसे में हमारा बचपन चाहे जैसे भी

हमारा बचपन चाहे जैसा भी हो, हमारा स्कूल चाहे जैसा भी हो,

हमारा कॉलेज चाहे जैसा भी हो,

सच तो यही है कि हम सबसे अधिक खुश बचपन में ही होते है,

और शायद ये गीत काफी ये समझाने के लिए कि सच में खुश रहने के लिए फाइनेंसियल फ्रीडम का क्या महत्व है,


फाइनेंसियल फ्रीडम – बचपन में खुश होने का कारण

दोस्तो,

क्या आपने कभी सोचा है – कि ऐसा क्यों होता है?

क्यों हम बचपन में ज्यादा खुश होते है,

क्यों स्कूल और कॉलेज के दिन ही अच्छे लगते है,

इस प्रश्न के जवाब में आप चाहे जो भी कहे –

लेकिन  मेरे हिसाब से बचपन और स्कूल के समय हमारी खुशी का सबसे बड़ा रीज़न होता है – फाइनेंसियल फ्रीडम

जी हा –

ये एक बहुत बड़ी सच्चाई है कि – हम सभी बचपन में फाइनेंसियली फ्री होते है, हमें पैसे कमाने की कोई चिंता नहीं होती है,

हर बच्चे के माँ बाप ही उसके सभी खर्चो की चिंता करते है, सभी तरह के खर्च, और इसलिए बचपन में हम सभी बाय डिफ़ॉल्ट बिलकुल फाइनेंसियली फ्री होते है,

हमें ये बताया जाता है कि – अभी हमारे खेलने कूदने और पढने लिखने का वक्त है, और जब हम बड़े हो जायेंगे तब हमें कमाने के बारे में सोचना है,

और इस तरह हमारे माँ बाप ही हमारे इनकम सोर्स होते है, जब जो चाहिए हम उनसे मांगते है,

और माँ बाप हमारी जरुरतो को पूरा करने का पूरा प्रयास करते है, फाइनेंसियल चिंताए उन्हें होती है हमें नहीं, और इस तरह जब हमें कोई फाइनेंसियल चिंता नहीं होती, हम बहुत ही अच्छी चिंता से मुक्त, बेहतरीन लाइफ जी पाते है,


Financial freedom की क्यों बहुत जरुरत है –

जैसे कि हमने जगजीत सिंह के गीत की दो पक्तियों को देखा, बचपन हम ज्यादा खुश इसलिए रहते है कि हमें बाय डिफ़ॉल्ट फाइनेंसियल फ्रीडम प्राप्त होता है,

और इस तरह हमें फाइनेंसियल फ्रीडम की जरुरत इसलिए बहुत ज्यादा है, ताकि हम

  • पैसो की चिंता से आजाद होकर हम एक फ्री लाइफ को जी सके
  • हम वो कर सके जिस से हमें सच में ख़ुशी मिलती हो
  • हम अपने उन सपनो को पूरा कर सके, जिनको हम बचपन से पूरा करना चाहते है,

और इसलिए जब हम पैसे कमाना शुरू करे, तो हमारी पहली कोशिस यही होनी चाहिए कि हम जल्द से जल्द फाइनेंसियल फ्रीडम प्राप्त करे

आइये अब बात करते है की फाइनेंसियल फ्रीडम  होता क्या है ?


फाइनेंसियल फ्रीडम क्या होता है ?

फाइनेंसियल फ्रीडम का हिंदी अर्थ है –वित्तीय आजादी, और आम भाषा में कहे तो पैसे कमाने की चिंता से आजादी,

और पैसे कमाने की चिंता आपको तभी नहीं होती है, जब आपके पास बहुत अधिक धन आ जाये , और आप उस धन का इस्तेमाल करके अपने लिए एक ऐसा इनकम सोर्स बना ले जिस से कि आपको बिना काम किये भी पैसे मिलते ही रहे,

फाइनेंसियल फ्रीडम एक ऐसी अवस्था होती है, जब हमें एक बेहतर जिन्दगी को जीने के लिए आवश्यक खर्च के रूप में लगने वाले पैसो की चिंता से आजाद होते है, हम पैसे के लिए काम करे या ना करे, हमारे पास पैसे आते ही रहते है, और जिनसे हम बिना पैसो की चिंता किये एक बेहतर लाइफ को जी पाते है,

जैसे – हर कोई चाहता है कि – उसे जल्द से जल्द रिटायरमेंट मिल जाये और उसे पैसे की चिंता न करनी पड़े क्योकि रिटायरमेंट के बाद काम पर नहीं जाने के बावजूद पेंशन की रकम मिलती रहेगी,

लेकिन अक्सर हमारे अर्थ्यव्यस्था में सरकार या अन्य कम्पनी में रिटायरमेंट के बाद पेंशन की बहुत कम सुविधा है, या है भी तो रिटायरमेंट की उम्र लगभग ६० वर्ष है,

और इस तरह जब कोई व्यकित 60 की उम्र में रिटायरमेंट लेता है तो उसे पेंशन के रूप में बिना काम पर जाये हर महीने पैसे मिलते रहते है, जिनसे वह व्यकित काफी हद तक फाइनेंसियली फ्री हो जाता है,

फाइनेंसियल फ्रीडम के फायदे –

आइये अब फाइनेंसियल फ्रीडम के फायदे की बात करते है-

अगर फाइनेंसियल फ्रीडम के फायदों की बात करे तो –

इसका पहला फायदा और सबसे बड़ा फायदा है –

  • आपको अपने खचो को पूरा करने के लिए यानी पैसे कमाने की रोज रोज चिंता नही करनी होती है, और आप जिन्दगी की RAT RACE से बाहर निकल जाते है,
  • दूसरा – आप पैसे के लिए काम नही करते, बल्कि पैसा आपके लिए काम करता है, जैसे – अच्छे इन्वेस्टमेंट
  • तीसरा फायदा है – आप वो काम कर सकते है, जो करने से आपको सच में खुशी मिलती हो,
  • चौथा फायदा है – आप अपनी जिंदगी को अपने तरीके से जी सकते है,और पूरी आजादी को महसूस कर सकते है, जो आपको बचपन में हुआ करती थी,
  • पाचवा फायदा – आप निश्चिंत होकर देश विदेश के अलग अलग शहरो में आजादी के साथ घुमने फिरने जा सकते है, और जब आप इस तरह घुमने फिरने का आनंद ले रहे होंगे, तब भी अपने किसी तरह के income के बारे इ सोचने की जरुरत नहीं पड़ेगी,
  • छठा फायदा ये भी है कि – फाइनेंसियली फ्री होने से आप अपने परिवार के साथ ज्यादा QUALITY TIME गुजार सकते है,
  • फाइनेंससयिी फ्री होने से आप कुछ समाज की भलाई के लिए बहुत सारे काम कर सकते है,
  • आप अपनी हजिंदगी को अपने तरीके से जी सकते है,और पूरी आजादी को महसूस कर सकते है, जो आपको कभी बचपन में हुआ करती थी,

फाइनेंसियल फ्रीडम के आवश्यक तत्व –

फाइनेंसियल फ्रीडम के लिए आपको तीन चीजे चाहिए -MONEY, TIME और SECURITY

  1. MONEY – आप तभी फाइनेंसियल फ्रीडम होंगे, जब आपके पास अपनी जिंदगी को जीने के लिए आपके पास पर्याप्त मात्रा में धन हो यानि -ENOUGH MONEY
  2. Time – अपनी मनपसंद जिंदगी जीने के लिए पर्याप्त धन के साथ, उस धन का इस्तेमाल करने के लिए आपके पास पर्याप्त मात्र में समय यानी टाइम भी होना चाहिए , यानि ENOUGH TIME
  3. Security – आपकी income कितनी सिक्योर है, मतलब आप कितने दिन तक काम नहीं करेंगे तो आपको इनकम मिलता रहेगा, फाइनेंसियल फ्रीडम के लिए ये भी बहुत इम्पोर्टेन्ट है, इस तरह इनकम की सिक्यूरिटी के लिए आपके पास पर्याप्त ENOUGH INCOME SOURCES होना जरुरी है,

फाइनेंसियल फ्रीडम कैसे प्राप्त होगा-

दोस्तों फाइनेंसियल फ्रीडम के लिए आपको अनिवार्य रूप से आपको दो चीज करने होंगे

  • पर्याप्त इनकम सोर्स बनाना जिसमे आपको काम नहीं करना पड़ता हो, जैसे – एक या कई पैसिव इनकम सोर्स
  • आपके पास धन की बहुत अधिक मात्रा होनी चाहिए, जैसे कि रिटायरमेंट फण्ड जो एक बड़ी राशी होती है, और उसका व्याज ही आपको पेंशन के रूप में मिलता रहता है,

इस तरह आपको फाइनेंसियल फ्रीडम प्राप्त करने के लिए  कुछ इस तरह के कदम उठाने है –

  • आपको फाइनेंसियल प्लान बनाना होगा, जिसमे आपको क्लियर पता हो कि आपको कब तक कितना धन प्राप्त करना होगा,
  • फाइनेंसियल प्लान के अनुसार आपको बचत शुरू करना होगा, बचत के बाद इन्वेस्टिंग और पॉवर ऑफ़ compounding का इस्तेमाल करके आप रिटायरमेंट फण्ड जैसे बहुत बड़ी धनराशी भी इकठ्ठा कर सकते है,
  • आपको अपने लिए कुछ पैसिव इनकम सोर्स बनाने होंगे, जो धीरे धीरे बढ़ते जाये, – जैसे – म्यूच्यूअल फण्ड निवेश, डिविडेंड इनकम , किराये का इनकम, रोयल्टी से मिलने वाला इनकम,

अगर कुछ पैसिव इनकम के एक्साम्प्ल की बात करे जो आपको फाइनेंसियल फ्रीडम के लिए अनिवार्य रूप से चाहिए तो इस तरह के इनकम सोर्स बनाने होंगे जैसे –

  • शेयर या स्टॉक में किए गए Investment से मिलने वाला income,
  • म्यूच्यूअल फण्ड में जमा निवेश और उस पर मिलने वाला लाभ
  • किराये से मिलने वाला इनकम
  • बैंक में जमा धन राशी से मिलने वाला व्याज का income,
  • रॉयल्टी से मिलने वाला income ,
  • ऐसे बिज़नस का प्रॉफिट जिसमे आपने मेनेजर रख दिया जो सब सभाल लेता हो,
  • ऐसा बिज़नस प्रॉफिट जहा आप acive रूप से काम नहीं करते
  • ऑनलाइन इनकम सोर्सेज – वेबसाइट, ब्लॉग, एफिलिएट मार्केटिंग
  • RETIREMENT PLAN से मिलने वाला पेंसन

दोस्तों, आशा है , फाइनेंसियल फ्रीडम का ये टॉपिक आपको जरुर पसंद आया होगा, और आप आज से ही अपनी फाइनेंसियल फ्रीडम के लिए काम करना शुरू कर देंगे,

पोस्ट पढने के लिए आपका धन्यवाद-

अगर ये पोस्ट अच्छा लगा तो नीचे कमेंट करके बताइए,

इसे विडियो में देखने के लिए यहाँ क्लिक करे –

Financial freedom Hindi video on Youtube

फाइनेंसियल प्लानिंग (Financial Planning)

 

One Response

  1. priyanka September 4, 2018

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.