फाइनेंसियल प्लानिंग (Financial Planning)

Financial Planning का अर्थ समझने के लिए, आइये पहले दोनों शब्दों का अलग अलग अर्थ समझते है,Financial का हिंदी अर्थ है – धन, पैसा, या वित्त, और Planning का हिंदी अर्थ है – योजना बनाना ,

इस तरह Financial Planning का हिंदी अर्थ है- वित्तीय नियोजन,

और वित्तीय नियोजन का अर्थ ये होता है, कि अपने जीवन की सभी तरह की वित्त यानी धन सम्बन्धी आवश्यकताओ(financial needs) को पूरा करने की योजना (Plan) बनाना,
और आसान शब्दो मे कहे तो,

धन सम्बन्धी आवश्यकताओ(financial needs) को पूरा करने के लिए बनाये जाने वाले योजना (Planning) को फाइनेंसियल प्लानिंग कहा जाता है”

अब थोड़ा Financial Needs को भी समझने की कोशिश करते है, फाइनेंसियल नीड्स किस तरह की होती है, और इनकी प्लानिंग करने की क्या जरूरत है,

Financial Needs (धन सम्बन्धी आवश्यकता)

धन सम्बन्धी आवश्यकता (Financial Needs), जैसे –
Regular Income for Daily Needs – रेगुलर खर्च के लिए रेगुलर इनकम,

Security of Income – इनकम की सुरक्षा, जिस से कि हमे रेगुलर इनकम प्राप्त होता रहे,(रिटायरमेंट के बाद के लिये इनकम)

Emergency Funds – किसी भी तरह के आपातकालीन स्थिति या घटना, जैसे – आर्थिक त्रासदी (Financial Crisis),बीमारी ,एक्सिडेंट, आदि के लिए FUND(पैसे) की जरुरत,

Short Term और Long Term Life Goal -अपना खुद का घर, अपनी गाड़ी, बच्चो की अच्छी शिक्षा, और उनकी शादी, देश या विदेश भ्रमण जाना,और बहुत कुछ,

इस तरह फाइनेंसियल नीड्स व्यतिकगत रूप से हम सभी की अलग-अलग हो सकती है, लेकिन धन सम्बंधित आवश्यकता सभी को होती जरुर है,

हर व्यक्ति के लिए अपनी धन संबंधी आवश्यकता (Financial Needs) को पूरा करना, उसके जीवन का एक लक्ष्य होता है, जो उसके व्यक्तिगत सफलता (Personal Success)से भी जुड़ी होती है,

अब ऐसे में,आप की भी अपनी कुछ ऐसी ही, Financial Needs जरूर होंगी, और यही फाइनेंसियल नीड हमे हमेशा काम करने और पैसे कमाने को प्रेरित करती है,और इसीलिए हम सभी अपने कैरियर की शुरुआत से रिटायरमेंट तक लगातार काम करते रहते है,ताकि हम अपने इन सभी फाइनेंसियल नीड को पूरा कर सके,

लेकिन Important सवाल ये है कि-

क्या हम सभी को फाइनेंसियल नीड को पूरा करने में सफलता मिल जाती है? – तो इसका जवाब है – “नही”,
सिर्फ 5% के  लोग, ही आर्थिक सफलता हासिल कर पाते है, और बाकी 95% लोग असफल जाते है, और एक Rat Race में फंस जाते है,

Financial Plan बनाना क्यों इम्पोर्टेन्ट है ?

मुझे आपको ये बताने की जरूरत नहीं कि किसी भी काम में सफलता के लिए, प्लानिंग का कितना अधिक महत्व होता है, प्लानिंग के महत्व को लेकर अंग्रेजी में एक कहावत है – Being Prepared is   half the battle won , यानि अगर तयारी अच्छी हो तो लड़ाई में आधी जीत पहले ही निश्चित हो जाती है,

तो इस तरह हमारी भी आर्थिक सफलता इस बात पर बहुत अधिक निर्भर करती है कि – क्या हमारे पास ठीक ठीक कोई फाइनेंसियल प्लान है या नहीं,

आर्थिक सफलता प्राप्त करने के लिए, फाइनेंसियल प्लान का होना बहुत इम्पोर्टेन्ट हो जाता है.

Financial Plan के फायदे

इसके आलावा अगर फाइनेंसियल प्लानिंग करने के फायदे की बात करे तो, फाइनेंसियल प्लानिंग करने के बहुत सारे फायदे है, जैसे –

  1. फाइनेंसियल प्लानिंग करने से हम अपने गैर जरुरी खर्चो को कण्ट्रोल कर सकते है, और इस तरह अपनी cash flow आमदनी को पॉजिटिवली बढ़ा सकते है,
  2. अपने आमदनी और खर्चो के बीच एक प्रॉपर बैलेंस मेंटेन कर सकते है,
  3. फाइनेंसियल प्लान की हेल्प से हम अपने बचत के पैसो का बेहतर से बेहतर निवेश कर सकते है, ऐसे निवेश जिसमे कम से कम रिस्क हो और हमें अधिक से अधिक लाभ मिले , जो हमारे आर्थिक लक्ष्यों को पूरा करने के लिए पर्याप्त हो,
  4. फाइनेंसियल प्लान से हम प्रॉपर टैक्स प्लानिंग, रिटायरमेंट प्लानिंग, और छोटे बड़े सभी फाइनेंसियल गोल पूरा करने में हेल्प मिलती है,
  5. फाइनेंसियल प्लान की हेल्प से हम अपने परिवार, और बच्चो के फ्यूचर को उचित बीमा राशी के कवर से एक आर्थिक सुरक्षा प्रदान कर सकते है ताकि किसी अनहोनी की दशा में परिवार वालो को किसी और से आर्थिक मदद ना मंगनी पड़े,
  6. हम सभी बेस्ट से बेस्ट निवेश करना चाहते है, ऐसे में फाइनेंसियल प्लानिंग के अनुसार निवेश करने से हम अपने लिए बेस्ट निवेश के विकल्पों को आसानी से चुन सकते है,

Financial Planning in HIndi


इसे भी पढ़े- 

फाइनेंसियल फ्रीडम कैसे प्राप्त करे ?

फाइनेंसियल फ्रीडम क्या होता है ?

इनकम क्या होता है ?

पैसिव इनकम क्या होता है ?

RULE OF 72 FORMULA से पैसे दोगुना करना सीखे

 How to manage Money – पैसे कैसे मैनेज करे

 हमें कम से कम कितने पैसे कमाने की जरुरत है?

NET WORTH क्या होता है?