INDEX FUNDS MUTUAL HINDI GUIDE www.sharemarkethindi.com

INDEX FUNDS म्यूच्यूअल फण्ड हिंदी गाइड

Print Friendly, PDF & Email

INDEX FUNDS IN INDIA – म्यूच्यूअल फण्ड हिंदी गाइड

INDEX FUNDS म्यूच्यूअल फण्ड हिंदी गाइड के इस सीरिज में आज हम बात करेंगे INDEX FUNDS क्या होते है? INDEX FUND में इन्वेस्टमेंट करने के क्या फायदे है? और INDEX FUND में निवेश किस तरह किया जाये? और INDEX FUND में निवेश करके हम लाभ कमा सकते है?

सबसे पहले बात करते है,

इंडेक्स फण्ड में किसको इन्वेस्ट करना चाहिए?

मेरे हिसाब से हर किसी को अपनी बचत का एक हिस्सा INDEX FUND में अनिवार्य रूप से निवेश करना चाहिए, LONG TERM में INDEX FUND बहुत ज्यादा धन बना सकता है,

खास तौर से जिन लोगो को  स्टॉक मार्केट इन्वेस्टमेंट के बारे में कुछ भी पता नहीं है, और उन्हें लगता है कि स्टॉक मार्केट में निवेश करने पर काफी रिस्क है, वे अगर 30 से 40 साल टाइम तक अगर थोड़े थोड़े पैसे भी जैसे 500 रूपये हर महीने निवेश करके भी करोडो रूपये बनाये जा सकते है,

इसके लिए बस दो काम करना है, रेगुलर हर महीने SIP INDEX में 30 से 40 साल तक लगतार निवेश ,

भारत में SENSEX या NIFTY ने जो पिछले 30 से 35 साल में 17 % के आस पास का CAGR लाभ दिया है, उस हिसाब से अगर आगे भी 15% के आस पास CAGR मिलता है, तो कोई भी बिना कुछ RISK उठाये करोडो रूपये बना सकता है,

इस तरह अगर आप शोर्ट टर्म ट्रेडर हो या स्टॉक मार्केट एक्सपर्ट या आम आदमी सभी को अपनी बचत का एक हिस्सा इंडेक्स फण्ड में निवेश करके देश की अर्थव्यवस्था में निवेश कर सकते है, और हम सभी को पता चाहे कुछ भी हो जाये – किसी देश की अर्थव्यवस्था 30 से 40 साल के समय में बहुत आगे ही जाएगी, न कि पीछे.

आइये इंडेक्स फण्ड के बारे में कुछ और डिटेल में जानते है-

INDEX FUNDS क्या होता है?

What is INDEX FUND?

INDEX FUND म्यूच्यूअल फण्ड इन्वेस्टमेंट का एक तरीका है, जिसमे म्यूच्यूअल फण्ड के पैसे को पहले से निश्चित इंडेक्स और उस इंडेक्स में आने वाले स्टॉक में उसी अनुपात में निवेश किया जाता है, जिस अनुपात में वे स्टॉक उस इंडेक्स में होते है,

जैसे – SENSEX INDEX फंड्स में SENSEX की 30 कंपनी के स्टॉक में निवेश किया जायेगा ,

और NIFTY50 INDEX फंड्स  में निफ्टी की 50 कम्पनी के स्टॉक में निवेश किया जायेगा,

INDEX FUNDS को समझना बिल्कुल आसान है – इंडेक्स फंड्स में जमा किया गया म्यूच्यूअल फण्ड का पैसा, पहले से तय किसी खास इंडेक्स और उसके अन्दर आने वाले स्टॉक में निवेश किया जायेगा,

अगर कुछ प्रमुख इंडेक्स फण्ड की बात की जाये तो वे है –

UTI NIFTY INDEX FUND , HDFC INDEX FUND SENSEX PLAN,

भारत में सभी प्रमुख म्यूच्यूअल फण्ड कम्पनी के पास अलग अलग कई तरह के इंडेक्स फण्ड है, आप इसे नीचे दिए गए लिंक पर चेक NSE की वेबसाइट पर चेककर सकते है, NSE WEBSITE LINK

INDEX FUNDS IN INDIA 2018

INDEX FUNDS IN INDIA 2018

INDEX FUNDS में इन्वेस्टमेंट के फायदे,

Benefits of INDEX FUNDS

  1. अर्थव्यस्था में निवेश (Investment in Economy) – किसी भी देश का STOCK MARKET INDEX सिर्फ उस देश के स्टॉक मार्केट को REPRESENT नहीं करता बल्कि उस देश की पूरी अर्थव्यवस्था को REPRESENT करता है, और ऐसे में INDEX में निवेश को ,उस देश की अर्थव्यवस्था में निवेश की तरह देखा जा सकता है,

LONG TERM सभी अर्थव्यवस्था अच्छा ही काम करेंगी, यही किसी भी निवेश का आधार होता है, और इस तरह INDEX FUNDS में निवेश करके हम एक पूरी अर्थव्यवस्था में निवेश करते है,

  1. NO ROLE OF FUND MANAGER – इस फण्ड में स्टॉक सेलेक्ट करने केलिए किसी FUND MANAGER का रोल नहीं होता, और इस तरह हम किसी फण्ड मेनेजर द्वारा संभावित गलतियों से बच जाते है, इस तरह देखा जाये तो इंडेक्स फण्ड FUND MANAGER पर DEPEND नहीं होता, बल्कि PROCESS DEPEND होता है, और एक बार इंडेक्स फण्ड का सेट अप और PROCESS शुरू हो जाने पर ये CONTINUE चलता रहता है,
  2. PASSIVE MANAGED FUND – अगर म्यूच्यूअल फण्ड को मैनेज करने के आधार पर देखा जाये तो दो प्रकार के म्यूच्यूअल फण्ड होते है, एक एक्टिव मैनेज्ड FUND – जिसमे फण्ड मैनेजर ACTIVELY स्टॉक का एनालिसिस करके BUYING AND SELLING करते है,

दूसरी तरफ ऐसे भी म्यूच्यूअल फण्ड होते है, जिनमे ACTIVE मैनेजमेंट की जरुरत नहीं होती, और ऐसे फण्ड का पैसा इंडेक्स में शामिल कंपनियों में ही निवेश होता है, जैसे – INDEX FUNDS

निवेशक को पहले से पता होता है कि उसका पैसा इंडेक्स की कंपनी में ही निवेश किया जायेगा, और इस तरह निवेशक इस बात के लिए निश्चित हो सकता है उसका पैसा जो भी कम्पनी सबसे ज्यादा अच्छा कर रही होगी, उसी में उसका paisa निवेश किया जायेगा.

  1. कम खर्च (LESS EXPENSIVE RATIO) – इस तरह INDEX FUNDS में किसी मैनेजर या किसी खास टीम की जरुरत कम होने से इंडेक्स फण्ड के खर्चे भी कम होते है, और यही कारण है कि अन्य ACTIVELY MANAGED फण्ड की अपेक्षा इंडेक्स फण्ड हमें कम खर्च में ही मिल जाता है, और इस तरह के फण्ड का EXPENSE RATIO 2  से 1 % के आस पास होता है,

और इस तरह इंडेक्स फण्ड में निवेश पर किसी भी अन्य म्यूच्यूअल फण्ड की तुलना में सबसे कम फ़ीस चार्ज लगता है,

  1. INDEX FUNDS को समझना और उसमे निवेश करना आसान है –

एक आम आदमी जिसको कुछ भी नहीं पता, स्टॉक मार्केट क्या है, कैसे काम करता है, लेकिन वो इतना जरुर जानता है कि जब वह छोटा था तो जितनी चीजे वो खरीद पाता था, आज उसके बच्चे उस से ज्यादा खरीदी कर पा रहे है, और इस तरह LONG TERM में पूरी अर्थव्यवस्था लम्बे समय में आगे ही जाती है,

और इस तरह आम आदमी आसानी से INDEX जो की देश की अर्थव्यवस्था का सूचक है, उसको समझ सकता है, कि उसके द्वारा इंडेक्स फण्ड में निवेश करने का अर्थ है – देश की अर्थव्यवस्था में निवेश,

इंडेक्स फण्ड समझने में आसानी के साथ साथ इसमें निवेश करना भी आसान होता है, चाहे वो किसी भी कंपनी का INDEX FUNDS हो, इस बात से कोई ज्यादा फर्क नहीं पड़ता, उसका लाभ वही होगा, जो मुख्य इंडेक्स का होगा,

INDEX FUNDS में इन्वेस्टमेंट के नुकसान,

तुलनात्मक नुकसान –

इंडेक्स फण्ड से निवेश को नुकसान देखा जाये तो वो है तुलनात्मक नुकसान,

जब हम इंडेक्स फण्ड की किसी अन्य ACTIVE MANAGED FUND से तुलना करते है, तो INDEX FUNDS और अन्य फण्ड मैनेजर द्वारा मैनेज किये जाने वाले फण्ड के लाभ में काफी अंतर देखने को मिलता है,

और आम तौर भारत में पिछले 20 साल में INDEX FUNDS ने अन्य फण्ड के मुकाबले थोडा कम लाभ दिया है,

PROCESS FOCUSED- अगर इंडेक्स फण्ड में कोई कंपनी अच्छा काम नहीं कर रही है, तो वो प्रोसेस के द्वारा ही बाहर होगी, जबकि एक्टिव managed फण्ड में फण्ड मेनेजर तुरंत फैसला ले सकता है , और नुकसान कर रही कंपनी को तुरंत निकाल कर दूसरा निवेश कर सकता है,

INDEX FUND में निवेश किस तरह किया जाये,

INDEX FUNDS में निवेश करने का तरीका बहुत सिंपल है, आप डायरेक्ट इंडेक्स को नहीं खरीद सकते है, इंडेक्स में निवेश करने के लिए आप किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी के INDEX FUNDS में निवेश कर सकते है,

जैसे – NIFTY INDEX FUNDS

जैसे – UTI MUTUAL FUND , SBI MUTUAL FUND, HDFC , ICICI आदि का NIFTY INDEX FUNDS,

आप इन कम्पनी के ऑफिस से रेगुलर प्लान या इनकी वेबसाइट से DIRECT PLAN खरीद सकते है, आपको DIRECT PLAN ही खरीदना चाहिए,

इसके अलावा आपके पास ग्रोथ और डिविडेंड पे आउट का भी विकल्प होगा, जिसमे आपको ग्रोथ आप्शन का चुनाव करना चाहिए,

और इसके अलावा आपके पास विकल्प है कि आपको लम्प सम निवेश करना है या SIP , तो हमारे हिसाब से आपको SIP निवेश करना चाहिए,

और इस तरह अगर आप – एक INDEX फण्ड जैसे सेंसेक्स के इंडेक्स फण्ड म निवेश करते है तो 500 रूपये का हर महीने का निवेश अगले 40 साल तक करे, और पिछले 35 साल में जो SENSEX ने 17 % CAGR का लाभ दिया है, वही लाभ आपको आगे भी मिल जाये तो आपके पास 40 साल बाद 500 रूपये हर महीने जमा यानी 2 लाख 40 हजार के आपके निवेश पर मिलने वाला कुल AMOUNT होगा – लगभग 2 करोड़ 5 लाख

INDEX FUNDS में निवेश हम कैसे फायदा उठाये,

INDEX FUNDS में निवेश से फायदा उठाने के लिए आपको सबसे पहले लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट के बारे में सोचना चाहिए, और लॉन्ग टर्म से हमारा मतलब है कम से 15 साल या उस से ज्यादा 20 साल, 25 साल, 30 साल या कभी कभी 40 साल,

क्योकि कम समय (SHORT TERM) में यानी 10 साल से कम समय में आपको स्टॉक मार्केट के इंडेक्स में काफी उतार चढाव देखने को मिलते है,  और ऐसे में अगर आप इंडेक्स फण्ड में 10 साल से कम समय के लिए निवेश करते है तो हो सकता है आपको बहुत अधिक लाभ न हो,

लेकिन जैसे 1980 में सेंसेक्स जो 100 पॉइंट पर था, आज 2018 में 35000 पर पहुच चूका है, लेकिन इस बीच इसमें शोर्ट टर्म में सालो साल काफी उतार चढाव के बाद आज यहाँ तक पंहुचा है,

यानी अगर किसी ने भी 1980 में 100 रूपये SENSEX INDEX FUNDS में निवेश किये होते, तो आज उसकी कीमत लगभग 35 हजार रूपये होती, और यही कारण है कि इंडेक्स फण्ड में आपको लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट के बारे में सोचना चाहिए, ताकि आपके निवेश पर POWER OF COMPOUNDING का फायदा उठा सके और मार्केट की शोर्ट टर्म के उतार चढाव का आपके निवेश पर कुछ खास असर न पड़े.

म्यूच्यूअल फण्ड की सीरिज में INDEX FUNDS  का ये पोस्ट आपको कैसे लगा, आप नीचे कमेंट करके जरुर बताये,

थैंक्स फॉर रीडिंग

म्यूच्यूअल फण्ड के दुसरे POSTS –

MUTUAL FUND – हिंदी गाइड पार्ट -1 

 History of Mutual Fund  हिंदी गाइड पार्ट -2

म्यूच्यूअल फण्ड के फायदे – हिंदी गाइड पार्ट -3

 म्यूच्यूअल फण्ड कैसे बनाया जाता है- हिंदी गाइड पार्ट -4

म्यूच्यूअल फण्ड में NAV क्या होता है ? हिंदी गाइड पार्ट -5

Types of Mutual Fund- हिंदी गाइड पार्ट 6

म्यूच्यूअल फण्ड में जमा पैसा कैसे निकाले,– हिंदी गाइड पार्ट 7

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.