Moving Average Crossover System Technial Analysis www.sharemarkethindi.com

Moving Average Crossover System

Print Friendly, PDF & Email

मूविंग एवरेज क्रॉसओवर सिस्टम 

Moving Average Crossover System मूविंग एवरेज को और ज्यादा इफेक्टिव बनाने के लिए, काम में लिया जाने वाला tools है, असल में Moving Average System को टेक्निकल एनालिसिस का एक स्ट्रेटजी कह सकते है, जिसका आधार Simple Moving Average (SMA) और Exponential Moving average (EMA) ही है,

अगर आप Simple Moving Average (SMA) और Exponential Moving average (EMA) को अच्छी तरह से समझते है, तो मूविंग Moving Average System (मूविंग एवरेज क्रॉसओवर सिस्टम) को समझाना आपके लिए बहुत आसान हो जाता है,

मूविंग एवरेज क्रॉसओवर सिस्टम के फायदे

Moving Average crossover System सामान्य Simple Moving Average (SMA) और Exponential Moving average (EMA) के कुछ प्रॉब्लम को काफी अच्छे तरीके से solve करता है, जो कि मूविंग एवरेज क्रॉसओवर सिस्टम के फायदे कहे जा सकते है, जैसे –

  1. Moving average सामान्यतया स्टॉक के खरीदने या बेचने के बहुत अधिक signal देते है, जिसमे ज्यादातर profitable नहीं होते है,
  2. Moving average के इस्तेमाल से सबसे ज्यादा प्रॉब्लम sideways market में होती है, जहा moving average स्टॉक के खरीदने या बेचने के बहुत अधिक signal देते है,

मूविंग एवरेज क्रॉसओवर सिस्टम कैसे काम करता है

Moving Average crossover System को बहुत ही सिंपल तरीके से काम में लिया जाता है, जैसा कि हम जानते है कि moving average चाहे वो SMA हो या EMA ये चार्ट पर एक सिंपल और सिंगल लाइन खीचते है, जिसमे हमें ये देखना होता है कि स्टॉक कर करंट price, मूविंग एवरेज से नीचे है या ऊपर,

तो इसी तरीके को जब डबल कन्फर्मेशन के लिए जब इस्तेमाल कर देते है, तो वो बन जाता है  Moving Average crossover System,

और इस तरह Moving Average crossover System में दो moving average की लाइन खीचते है, और दोनों को एक साथ देखकर ये समझने की कोशिश करते है, कि कौन सा signal स्टॉक के खरीदने या बेचने के लिए DOUBLE कन्फर्मेशन दे रहा है,

यानि अगर एक लाइन में कहू तो मूविंग एवरेज क्रॉसओवर सिस्टम दो EMA या फिर दो SMA की लाइन होती है, जिसमे हमें बहुत ज्यादा signal से कुछ अच्छे सौदे (trade) की तलाश करते है,

ध्यान देने वाली बात ये है कि – ये दो मूविंग एवरेज अलग अलग टाइम frame के होते है,

जैसे – एक 25 DAYS EMA और दूसरा 50 DAYS EMA या दूसरा एक 9 DAYS EMA और दूसरा 21 DAYS EMA और ऐसे ही अलग अलग टाइम के दो EMA इस्तेमाल में लिए जाते है,

इन दोनों मूविंग एवरेज की लाइन को चार्ट पर एक साथ खीचने से हमें मूविंग एवरेज का crossover सिस्टम देखने को मिलता है,

ये दोनों लाइन कभी चार्ट में कभी एक दुसरे से दूर होती है, कभी पास और कभी एक जगह पर मिल जाती है, और इसी के आधार पर ट्रेडर अपनी ट्रेड के signal को कन्फर्म करने की कोशिस करता है,

POPULAR Moving Average crossover System

Moving Average crossover System के कुछ पोपुलर कॉम्बिनेशन इस प्रकार है,

  1. 9 DAYS EMA और 21 DAYS EMA की दो लाइन,-

यह सिस्टम short term trade के लिए अच्छा माना जाता है, इसका इस्तेमाल कुछ दिनों से लेकर एक week तक के trade के लिए किया जाता है, 

  1. 25 DAYS EMA और 50 DAYS EMA की दो लाइन,-

इसे Swing Trading के लिए अच्छा माना जाता है, इसका इस्तेमाल कुछ दिनों से लेकर एक week से लेकर एक महीने तक के trade के लिए किया जाता है, 

  1. 50 DAYS EMA और 100 DAYS EMA की दो लाइन,-

इसे एक लिटिल लॉन्ग टर्म  के लिए अच्छा माना जाता है, इसका इस्तेमाल 1 महीने से लेकर 6 महीने तक के trade के लिए किया जाता है, 

  1. 100 DAYS EMA और 200 DAYS EMA की दो लाइन,-

इसे एक PURE लॉन्ग टर्म  के लिए अच्छा माना जाता है, इसका इस्तेमाल 6 महीने या उस से ज्यादा समय तक के trade के लिए किया जाता है, 

 ध्यान देने वाली बाते –

यहाँ जो कम TIME वाला EMA है उसे FAST MOVING AVERAGE कहा जाता है, और दूसरा जो ज्यादा टाइम frame वाला EMA है उसे SLOW MOVING AVERAGE कहा जाता है,

और ध्यान देने वाली बात ये है कि FAST MOVING AVERAGE में कम DATA POINT को कैलकुलेट करके बनाता है, इसलिए ये करंट price के काफी नजदीक होता है,

इसके आलावा, SLOW MOVING AVERAGE ज्यादा DATA POINT को कैलकुलेट करके बनता है, इसलिए ये CURRENT PRICE से थोडा दूर दीखता है,

 आगे हम ये जानेंगे कि – इस तरह Moving Average crossover System के आधार पर हम कैसे ट्रेड ले सकते है,

Moving Average crossover System के ऊपर हमारे TRADE

  1. BUY – HOLD –GO LONG

जब FAST MOVING AVERAGE (SHORT TIME EMA) दुसरे SLOW MOVING AVERAGE (LONG TIME EMA) से अधिक होता है, तो इसका मतलब LONG TERM में स्टॉक का PRICE ऊपर जाने वाला है,

और इसलिए हमें ऐसा crossover दिखने पर स्टॉक को खरीदना चाहिए, और अपनी लॉन्ग पोजीशन बनानी चाहिए,

दूसरा अगर हमारे पास स्टॉक पहले से ख़रीदा हुआ है, तो हमें स्टॉक में अपनी पोजीशन को और LONG रखनी चाहिए, जब तक कुछ और signal न मिले,

 

  1. EXIT (SQUARE OFF)

जब FAST MOVING AVERAGE (SHORT TIME EMA) दुसरे SLOW MOVING AVERAGE (LONG TIME EMA) से नीचे होता है, तो इसका मतलब LONG TERM में स्टॉक का PRICE नीचे जाने वाला है,

और इसलिए हमें ऐसा crossover दिखने पर स्टॉक को बेच देना चाहिए, और अपनी पोजीशन को SQUARE OFF बनानी चाहिए,

दूसरा अगर हमारे पास स्टॉक पहले से ख़रीदा हुआ है, तो हमें स्टॉक में अपनी पोजीशन को और LONG रखनी चाहिए, जब तक कुछ और signal न मिले,

Moving Average crossover System का INTRA DAY में इस्तेमाल

Moving Average crossover System के TIME कॉम्बिनेशन का इंट्रा DAY में कुछ इस प्रकार इस्तेमाल किया जा सकता है –

  1. 15 मिनट EMA और 30 मिनट EMA
  2. 5 मिनट EMA और 10 मिनट EMA

 आशा करता हु कि TECHNICAL ANALYSIS के ये टॉपिक, आपको जरुर पसंद आया होगा, और आपसे REQUEST कि आप अपने सुझाव, सवाल और कमेंट को निचे जरुर लिखिए,

धन्यवाद


  1. TECHNICAL ANALYSIS – INTRODUCTION

    1. Technical Analysis क्या है ?
    2. Technical Analysis के क्या फायदे है ?
    3. TECHNICAL ANALYSIS की सबसे बड़ी विशेषता
    4. Technical Analysis Assumption- अवधारणा
    5. Technical Analysis के मूल तत्व
    6. Technical Analysis- Chart
    7. Technical Analysis – TREND
    8. Support and resistance (S & R) क्या होता है?
    9. Volume (वॉल्यूम)- Technical Analysis
    10. Moving Average मूविंग एवरेज



One Response

  1. sharad ch. Komalwar May 13, 2018

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.