Mutual Fund portfolio kaise banaye - www.sharemarkethindi.com

Mutual Fund Portfolio म्यूच्यूअल फण्ड पोर्टफोलियो कैसे बनाये

Print Friendly, PDF & Email

Mutual Fund Portfolio

Mutual fund Portfolio बेस्ट तरीके से बनाने के लिए, आपको सबसे पहले अनिवार्य रूप से अपने म्यूच्यूअल फण्ड निवेश के लक्ष्यों को समझना होगा, आपको ये समझना होगा कि आप आखिर म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश क्यों करना चाहते है?

अगर आपके निवेश के लक्ष्य बिलकुल स्पस्ट है तो आप अपने लिए काफी बेहतर Mutual Fund Portfolio बना सकते है,

आज के इस पोस्ट हम Mutual Fund Portfolio बनाने के बारे में थोड़ा डिटेल में जानेंगे,

तो चलिए सबसे पहले बात करते है, पोर्टफोलियो के बारे में, पोर्टफोलियो क्या होता है ? और इसकी जरुरत क्यों है ?

पोर्टफोलियो क्या होता है?

निवेश के सम्बन्ध में पोर्टफोलियो का अर्थ है – निवेश की टोकरी, जिसमे कई अलग अलग निवेश शामिल है,

किसी व्यक्ति के निवेश के लक्ष्यों के अनुसार, उसके द्वारा अलग अलग निवेश, का कुल योग (Grand Total of investment) को ही उस व्यक्ति का पोर्टफोलियो कहा जाता है –

  • म्यूच्यूअल फण्ड पोर्टफोलियो, (जिसमे कई अलग अलग म्यूच्यूअल फण्ड को शामिल किया जाता है)
  • स्टॉक मार्केट पोर्टफोलियो (जिसमे कई अलग अलग इंडस्ट्री और सेक्टर को शामिल किया जाता है)
  • फिक्स्ड इनकम पोर्टफोलियो (बैंक फिक्स्ड डिपाजिट और एनी फिक्स्ड इनकम इन्वेस्टमेंट)

कम रिस्क पर ज्यादा लाभ के के लिए, अक्सर फाइनेंसियल एडवाइजर द्वारा निवेश के अलग अलग विकल्पों, रिस्क को कम करके, निवेश करने की सलाह दी जाती है.

हर आदमी यही चाहता है कि – वह कम से कम रिस्क पर अधिक से अधिक लाभ ले,

और ऐसे मे बहुत कम ऐसे निवेश है, जहा कम रिस्क पर ज्यादा लाभ मिलते है,

जो भी निवेश है, उनमे से ज्यादातर जहा ज्यादा लाभ की संभवना होती है, वहा रिस्क भी ज्यादा होता है, और जहा लाभ की सम्भावना भी कम होती है,

इसी प्रॉब्लम को समझते हुए, जब भी कोई व्यकित निवेश शुरू करता है तो उसे, एक बैलेंस्ड पोर्टफोलियो बनाने की सलाह दी जाती है, जिसमे कुछ अधिक रिस्क वाले निवेश के साथ साथ निवेश की रकम की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कम लाभ के निवेश भी किये जाते है,

ताकि आदमी को एक बैलेंस पोर्टफोलियो मिल सके, और उसे कम रिस्क में ज्यादा लाभ हो सके.

आइये अब बात करते है –

म्यूच्यूअल फण्ड पोर्टफोलियो

आज हर म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी के पास कई अलग अलग म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम उपलब्ध है – जैसे

  1. Equity fund
  2. Debt fund
  3. Balanced or hybrid fund
  4. Sectoral fund
  5. Industries fund.
  6. Index fund.
  7. Small cap fund
  8. Large cap fund
  9. Mid cap fund

इसी तरह से और भी बहुत सारे अलग अलग म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम हर, म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी के पास ऐसी योजना उपलब्ध है, समझने वाली बात ये है कि – हर म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम का अपना एक ऑब्जेक्टिव यानि उद्देश्य होता है,

तो जब भी आप किसी म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करते है, तो सबसे पहली बात जो आपको ध्यान में रखनी चाहिए कि – क्या आपके निवेश के लक्ष्य या आपके निवेश के उद्देश्य, उस म्यूच्यूअल फण्ड के उद्देश्य से मिलते जुलते है या नहीं?

जैसे – मान लीजिए रिस्क के आधार पर म्यूच्यूअल फण्ड में तीन टाइप के रिस्क वाले म्यूच्यूअल फण्ड होते है

  1. Low Risk Mutual Funds.
  2. Moderate Risk Mutual Funds.
  3. High Risk Mutual Funds.

अब ऐसे में आप अपने निवेश पर कम से कम रिस्क चाहते है भले ही लाभ कम हॉट तो आपको low risk mutual fund में निवेश करना होगा, और अगर आप ज्यादा रिस्क उठाते हुए  ज्यादा लाभ के लिए निवेश करना चाहते है तो आपको high risk mutual fund में निवेश कर सकते है,

कैसे Best Mutual Fund Portfolio बनाये ?

आपको इस बात को स्पस्ट रूप से समझना चाहिए कि- हर आदमी का अपना अपना एक अलग निवेश का लक्ष्य होता है ?

निवेश कर के हर आदमी लाभ कमाना जरुर चाहता है, लेकिन हर आदमी की निवेश में रिस्क उठाने की अलग अलग क्षमता होती है, हर आदमी अलग अलग लक्ष्यों को पूरा करने के लिए निवेश करता है, साथ ही हर आदमी निवेश करने के लिए समय का चुनाव भी अपने अपने हिसाब से ही करते है,

तो ऐसे में जो म्यूच्यूअल फण्ड मेरे लिए अच्छा है, वही आपके लिए भी अच्छा हो ये जरुरी नहीं है,

या फिर जो निवेश आपके दोस्त के लिए बेस्ट है, वही आपके लिए भी बेस्ट हो ये जरुरी नहीं है.

अब जैसे मैंने शुरुआत में कहा, एक बेहतर mutual fund porftolio के लिए आपको अपने खुद के निवेश के लक्ष्य सबसे पहले स्पस्ट करने होंगे,

जैसे –

  • आप अपने निवेश के ऊपर कितना प्रतिशत लाभ कमाना चाहते है ?
  • आप अपने निवेश के ऊपर कितना रिस्क उठा सकते है ?
  • आप कितने समय के लिए निवेश करना चाहते है ?

और फिर, इस तरह अपने निवेश के लक्ष्य स्पस्ट होने के बाद, अपने निवेश के लक्ष्यों के अनुसार आप अपने लिए अच्छे Mutual fund scheme का चुनाव कर सकते है,

और इस तरह आप अपने लिए Best Mutual fund portfolio बना सकते है,

आप इस पोस्ट के बारे में अपने विचार या सवाल कमेंट करके बता सकते है,

पोस्ट पूरा पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद.


  1. म्यूच्यूअल फण्ड – हिंदी गाइड पार्ट -1 
  2.  म्यूच्यूअल फण्ड – हिंदी गाइड पार्ट -2
  3. म्यूच्यूअल फण्ड के फायदे -हिंदी गाइड पार्ट -3
  4. म्यूच्यूअल फण्ड कैसे बनाया जाता है- हिंदी गाइड पार्ट -4
  5. म्यूच्यूअल फण्ड में NAV क्या होता है ? हिंदी गाइड पार्ट -5



2 Comments

  1. Virendra August 6, 2018
  2. daulatsinha August 8, 2018

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.