नेशनल इनकम की जानकारी हिंदी में

नेशनल इनकम (राष्ट्रिय आय ) की जानकारी

Print Friendly, PDF & Email

नेशनल इनकम क्या होता है ? इसकी गणना कैसे की जाती है ? और नेशनल इनकम का क्या महत्व है, आइए आज के इस पोस्ट में हम इसे डिटेल में समझते है.

नेशनल इनकम क्या होता है ?

नेशनल इनकम का हिंदी अर्थ होता है – राष्ट्रिय आय, और राष्ट्रीय आय का मतलब किसी देश की एक फाइनेंसियल वर्ष में होने वाली पूरी आय,

अब आय से मतलब वैसे तो शुद्ध आमदनी से होता है, और शुद्ध आमदनी (NET INCOME) का मतलब है – कुल  माल और सेवा उत्पादन से कुल खर्च को घटाना

NET INCOME = TOTAL PRODUCTION (INCOME) – TOTAL EXPENSES

यानी आम तौर पर आय का मतलब शुद्ध आय ही होता है लेकिन जब राष्ट्रिय आय की बात की जाती है तो इसका मतलब होता है – सकल घरेलु उत्पाद.

तो ये कहा जा सकता है कि – सकल घरेलु उत्पाद को ही नेशनल इनकम माना जाता है.

और सकल घरेलु उत्पाद का CONCEPT कुछ इस प्रकार है –

सकल घरेलु उत्पाद (Gross Domestic Product)

सकल घरेलु उत्पाद (Gross Domestic Product) को शोर्ट में हम जीडीपी(GDP) के नाम से जानते है, और GDP का अर्थ है – किसी देश की सीमा के भीतर किसी वर्ष कुल कितना सामान और सेवा (Goods and Services) उत्पादित किया जाता है,

जैसे – मान लीजिए अगर भारत देश में किसी साल अगर 10 लाख करोड़ रूपये का सामान और सेवा उत्पादित किया जाता है तो इसका मतलब है भारत की कुल GDP उस वर्ष 10 लाख करोड़ रूपये मानी जाएगी.

ध्यान दीजिए कि – बैंकिंग सिस्टम और रिज़र्व बैंक के सिस्टम से भारत में हर साल सकल घरेलु उत्पादन की गणना की जाती है.

अब आइये सकल घरेलु उत्पाद को मापने के अलग अलग तरीके है –

GDP गणना का पहला तरीका

इस तरीके का नाम है – Product, Income and Expenditure Method.

और इस तरीके से GDP गणना कुछ इस प्रकार की जाती है –

National Product (GDP) = National Income = National Expenditure.

GDP गणना का दूसरा तरीका

इस दुसरे तरीके का नाम है – value added method to GDP

इस तरीके में देश के भीतर अलग अलग INDUSTRY और उसके SECTOR जैसे – agriculture and allied services; mining; manufacturing, construction, electricity, gas and water supply; transport, communication and trade; banking and insurance, real estates and ownership of dwellings and business services; and public administration and defence and other services (or government services)

इन सभी क्षेत्रो के सामान और सेवा (Goods and Services) में उत्पादन में होने वाली वृद्धि के कुल योग को ही सकल घरेलु उत्पाद (GDP) या नेशनल इनकम माना जाता है.

इसके अलावा भी अन्य तरीके है जो डिटेल में आप इस अर्तिक्ल में पढ़ सकते है –

National Income: Definition, Concepts and Methods of Measuring National Income

तो दोस्तों, आज के इस पोस्ट में मैंने आपसे नेशनल इनकम और जीडीपी के कांसेप्ट के बारे बात की , अगर आपके मन में इस पोस्ट से जुड़ा कोई सुझाव या सवाल हो तो आप कमेंट करके जरुर पूछे.

पोस्ट पूरा पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद.


इसे भी पढ़े-

PASSIVE INCOME  क्या होता है?

Types Of Income – आमदनी के प्रकार

आमदनी का सही मतलब क्या है ? (The Absolute Meaning of Income)

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.