SENSEX KYA HAI www.sharemarkethindi

SENSEX KYA HAI? सेंसेक्स क्या है और इसकी गणना कैसे की जाती है,

Print Friendly, PDF & Email

SENSEX KYA HAI? सेंसेक्स क्या है?

दोस्तों, आज हम बात करेंगे की SENSEX KYA HAI, WHAT IS SENSEX?

SENSEX – SENSEX का फुल फॉर्म है  SENSITIVE INDEX,

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज द्वारा SENSEX की स्थपाना 01 जनवरी 1986 हुई, यह भारत का एक सबसे प्रमुख सूचकांक(INDEX) है।

SENSEX की स्थापना, करने के पीछे सबसे मुख्य कारण था, पुरे STOCK MARKET की दिशा का पता लगाना , या यु कहे की एक नजर में बाजार का हाल चाल पता लगाना ,

SENSEX में कुल 30 शेयर होते हैं, और इस 30 शेयर्स  में अलग-अलग क्षेत्रो की सबसे TOP की कंपनिया, जो बहुत WELL ESTABLISHED और FINANCIALLY STRONG होती है, उनको ही शामिल किया जाता है,

SENSEX में शामिल शेयर की लिस्ट 

यानी आसान भाषा में अगर बात की जाये कि SENSEX KYA HAI,

तो सेंसेक्स BOMBAY STOCK EXCHANGE का STOCK MARKET INDEX है, जो स्टॉक मार्केट में हो रहे, कारोबार के बारे में हर मिनट की जानकारी को आसान तरीके से हमें बताता है,

SENSEX की गणना कैसे की जाती है?

पीछे हमने देखा SENSEX KYA HAI, आइये अब जानते है SENSEX गणना की विधि –

सेंसेक्स की गणना के लिए अपनाया जाने वाला तरीका है – MARKET CAPITALIZATION WEIGHTED METHOD, हिंदी में इसे बाजार पूंजीकरण- भारित विधि कहते है,

SENSEX में शामिल किये गए कंपनी को उसकी MARKET CAPITALIZATION के आधार पर उनको एक WEIGHT-AGE दिया जाता है, 

वेटेज से मतलब उन कपनी के शेयर के भाव में होने वाले बदलाव को उनको दिए गए वेटेज के आधार पर उसका प्रभाव सेंसेक्स पर पड़ेगा,

जैसे – अगर ITC को 6% वेटेज दिया गया हो तो, ITC के शेयर में होने वाले शेयर के भाव का सेंसेक्स पर 6% प्रभाव पड़ेगा, 

SENSEX की इस गणना के BASE YEAR 1 978-79 है, और उस समय के लिए BASE INDEX VALUE को 100 पॉइंट पर सेट किया गया था।

अब सवाल है कि –

BASE INDEX VALUE को 100 पॉइंट्स पर क्यों सेट किया गया ?

दोस्तों, SENSEX के सूचकांक यानि BASE INDEX VALUE को 100 पॉइंट्स पर सेट किया गया, क्योकि इस से आगे होने वाले सूचकांक में परिवर्तन को आसानी से परसेंटेज में समझा जा सकता था, और साथ ही साथ SENSEX की गणना बहुत आसानी से की जा सकती थी,

जैसे – मान लीजिए 1 जनवरी को सूचकांक 100 पॉइंट्स पे है, और अगले दिन अगर SENSEX 105 पॉइंट्स पर पहुच जाता है, तो हम आसानी से गणना कर सकते है और बता सकते है की SENSEX 5 % से ऊपर की तरह आगे है.

अब सवाल आता है,

SENSEX में शामिल किये जाने वाले SHARE का चयन कैसे किया जाता है?

स्टॉक का चयन QUALITY और QUANTITY दोनों ही STANDARD को ध्यान में रखते हुए किया जाता है,
आइये देखते है की INDEX की गणना कैसे की जाती है ?

Sensex में स्टॉक शामिल करने के लिए कुछ प्रमुख नियम इस प्रकार है-

  1. सबसे पहली शर्त है, की कंपनी का शेयर पिछले एक साल से ज्यादा समय से स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड होना चाहिए,
  2. सेंसेक्स में उसी कंपनी के शेयर को शामिल किया जाता है, जिस कंपनी का शेयर पिछले एक साल, सभी working days में उस शेयर की ट्रेडिंग हुई हो,
  3. जिन कंपनी के शेयर को sensex में शामिल किया जाता है, उन कंपनियों के शेयर की ट्रेडिंग वैल्यू और टोटल ट्रेडेड quantity के हिसाब से TOP 150 कंपनी होनी चाहिए,

SENSEX KYA HAI – SUMAMRY

दोस्तों, इस आर्टिकल में हमने सेंसेक्स के बारे में कुछ जरुरी बाते जानी, SENSEX KYA HAI, और इसकी गणना कैसे की जाती है,


अधिक जानकारी के लिए आप BOMBAY STOCK EXCHANGE की वेबसाइट पर जा सकते है, या नीचे कमेंट करके हमसे पूछ सकते है,


इस आर्टिकल को समय देने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद,

अगर पोस्ट अच्छा लगा तो नीचे अपना कमेंट या सवाल जरुर लिखे,

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.