STOCK MARKET में स्टॉक का भाव कम ज्यादा क्यों होता है ?

Print Friendly, PDF & Email

STOCK MARKET में स्टॉक का भाव कम ज्यादा क्यों होता है ?

दोस्तों,अक्सर मन में ये भी सवाल आता है, STOCK MARKET में स्टॉक का भाव कम ज्यादा क्यों होता है ? ऐसा क्या है की शेयर्स के भाव घटते और बढ़ते रहते है?

आज हम इसी बात को समझेंगे की आखिर SHARE MARKET में होने वाले उतार और चढाव, के पीछे क्या कारण है?

STOCK MARKET का सबसे मुख्य काम है, एक MARKET PLACE बनाना ,जहा  शेयर खरीदने वाले और बेचने वाले दोनों भी हमेशा मौजूद रहे,

और INDIAN STOCK MARKET में BSE और NSE बहुत सही तरह से अपनी भूमिका STOCK MARKET के रूप में निभा रहे है, 

शेयर्स के भाव में बदलाव – DEMAND AND SUPPLY

STOCK MARKET एक ऐसा MARKET PLACE है, जहा शेयर खरीदने और बेचने  के लिए  हमेशा BUYER और SELLER की DEMAND बनी रहती है, जो शेयर्स खरीदना और बेचना चाहते है,

और किसी भी बाजार को चलाने में DEMAND (मांग) और  SUPPLY (आपूर्ति) की मुख्य भूमिका होती है, और इस तरह DEMAND और SUPPLY के नियम से ही STOCK MARKET में उतार चढाव देखने को मिलता है,

जब SHARES की DEMAND अधिक होती है, तो SHARES के भाव बढ़ जाते है, और जब DEMAND कम होती है तो SHARES के भाव घट जाते है, 

और शेयर्स के भाव  घटने और बढ़ने से  बाजार का सूचकांक यानी BSE-SENSEX और NSE- NIFTY में भी उतार और चढाव देखने को मिलता है ,

शेयर्स के भाव में बदलाव – शेयर के प्रति नजरिया

STOCK MARKET में सिर्फ आकड़ो और पिछले तथ्यों के आधार पर अनुमान लगाया जाता है, की SHARES के भाव आगे क्या रहेंगे, एक ही STOCK के बारे में हर किसी की अलग अलग राय हो सकती है,

कोई उसे खरीदना चाहता है और कोई बेचना चाहता है , और इसी खरीदने और बेचने के अलग अलग नजरिये को लेकर ही लोग STOCK MARKET में STOCK खरीदने और बेचने का ORDER डालते है,

और लोगो के इन अलग अलग नजरिये और ORDERS के ऊपर DEMAND और SUPPLY के नियम से STOCK MARKET हमेशा काम करता रहता है, और डिमांड अधिक होने पे भाव बढ़ जाते है और DEMAND कम होने पे भाव कम हो जाते है,

STOCK MARKET में कोई भी व्यक्ति  अपने अनुमान के हिसाब से सही हो सकता है या गलत भी , कोई भी हमेशा एकदम सही सही अनुमान नहीं लगा सकता, STOCK MARKET ही सब कुछ स्पष्ट करता है, बाकि कोई दूसरा STOCK MARKET में होने वाले उतार चढाव को सही-सही नहीं बता सकता,

इस तरह हम समझ सकते है, की STOCK MARKET में जो लोग भाग लेते है, यानीं STOCK खरीदने और बेचने वाले लोगो को लेकर एक STOCK MARKET बन जाता है और इन खरीदने और बेचने वालो के मध्य एक DEMAND और SUPPLY का नियम काम करने लगता है, जिसकी वजह से शेयर के भाव में उतार और चढाव देखने को मिल जाता है,

STOCK MARKET में उतार -चढाव के कुछ कारण- 

वैसे तो STOCK MARKET में उतार चढाव के बहुत सारे कारण हो सकते है,उसमे कुछ प्रमुख कारण इस प्रकार है,

  1. समाचार – (POSITIVE और NEGATIVE NEWS FROM GOVERNMENT)- समय- समय पर सरकारे अपनी नीतियों द्वारा अलग अलग क्षेत्रो के बिकास की योजनायें बनाती है, जैसे ही ऐसी कोई NEWS आती है की सरकार किसी अमुक क्षेत्र में विकास की योजना बनाने वाली है तो उस क्षेत्र से जुड़े शेयर्स की तरफ खरीदने वाले ज्यादा आते है, क्योकि इस से कंपनियों को ज्यादा लाभ होने की उम्मीद होती है, और ज्यादा लोगो के शेयर्स खरीदने की वजह से उस कंपनी के शेयर्स के भाव बढ़ जाते है, और ठीक इसके उलटे अगर कभी NEWS NEGATIVE हो यानी उस क्षेत्र के अनुकूल न होने पर उस क्षेत्र से जुड़े कंपनी के शेयर्स को लोग बेचना चाहते है, जिस से उस कंपनी के भाव कम हो जाते है,
  2. RESERVE BANK OF INDIA (RBI)- की नीतिया – 
  3. विश्व की अर्थव्यवस्था (GLOBAL ECONOMY IMPACT)
  4. सरकार की नीतिया 
  5. कम्पनी के लाभ कमाने की क्षमता – 
  6. कंपनी की अपनी नीतिया-
  7. कंपनी का MANAGEMENT-

इस तरह अन्य बहुत सारे कारण है जो STOCK MARKET के उतार-चढाव के अन्य बहुत सारे कारण है, जिसकी वजह से STOCK MARKET में हमेशा कुछ न कुछ होता रहता है और ये निरंतर चलता रहता है,

आशा है, आप समझ पाए होंगे, की STOCK MARKET कैसे काम करता है,  

http://sharemarkethindi.com/

One Response

  1. Pingback: Is the Stock Market Gambling or Business | Share Market Hindi December 15, 2017
  2. Prabhat March 28, 2018

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.