STOCK MARKET SECTOR www.sharemarkethindi.com

Stock market sector क्या होता है ?

Print Friendly, PDF & Email

Stock market sectors

हमें अक्सर स्टॉक मार्केट में बार बार अलग अलग STOCK MARKET SECTOR शब्द सुनने को मिलता है, TV या NEWSPAPERS में हेडलाइंस भी इसी तरह की बनती है, आज STOCK MARKET SECTOR  में BANKING SECTOR ने अच्छा काम किया, या ऑटोमोबाइल या फार्मा सेक्टर ने अच्छा काम किया,

आज हम इसी स्टॉक मार्केट सेक्टर के बारे में बात करेंगे,और जानेंगे कि स्टॉक मार्केट से पैसे बनाने के लिए स्टॉक मार्केट सेक्टर को समझना कितना जरुरी है.

SECTOR क्या होता है ?

स्टॉक मार्केट क्या होता है, ये आप समझ चुके है, अब स्टॉक मार्केट के साथ जो दूसरा शब्द है सेक्टर इसके बारे में बात करते है, SECTOR का अर्थ होता है, किसी एक जगह (Place) को अलग अलग भाग में DIVIDE करके, हर अलग अलग भाग को एक अलग नाम देना,

इस तरह, स्टॉक मार्केट में लिस्टेड सभी कंपनी कोई न कोई प्रोडक्ट या सर्विस देती है, और एक ही तरह या उस से मिलते जुले प्रोडक्ट या सर्विस देने वाली बहुत सारी कम्पनी स्टॉक मार्केट में लिस्टेड है, जैसे – बैंकिंग सर्विस देने वाली सभी बैंकिंग कंपनी एक ही तरह की सर्विस देती है, और ऐसे में स्टॉक मार्केट का एक प्रमुख भाग बैंकिंग सेक्टर में डिवाइड किया जा सकता है,

और इसी तरह उन सभी कंपनी को एक ग्रुप में या केटेगरी में रखा जाता है, जो एक ही तरह के प्रोडक्ट या फिर थोड़े मिलते जुलते प्रोडक्ट्स बनाते है, और इसी ग्रुप और केटेगरी को सेक्टर कहा जाता है,

और इस तरह Stock Market Sector की लिस्ट को, आप अलग अलग वेबसाइट पर देख सकते है, जैसे – NSE INDIA और MONEYCONTROL

STOCK MARKET SECTOR लिस्ट

स्टॉक मार्केट के अलग अलग सेक्टर की लिस्ट इस प्रकार बनायी जा सकती है,

  1. Automotive – सभी तरह की गाड़ी बनाने वाली कंपनी को ऑटोमोटिव सेक्टर में रखा जाता है,
  2. Banking & Financial Services – इस सेक्टर में सभी तरह की बैंकिंग और फाइनेंस सेवा देने वाली कंपनी को रखा जाता है,
  3. Cement & Construction – इस सेक्टर में बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन, और सीमेंट से जुडी कंपनी को रखा जाता है,
  4. Chemicals – सभी तरह की केमिकल और शराब बनाने वाली कंपनी को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  5. Consumer Durable – सभी तरह Consumer Durable products जैसे फ्रिज, टीवी , AC , पंखा, और किचेन में इस्तेमाल होने वाले लम्बे समय तक टिकने वाले प्रोडक्ट जैसे कुकर आदि को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  6. Consumer Non-durable – सभी तरह Non Consumer Durable products जैसे Daily Needs जैसे – टूथपेस्ट , साबुन, क्रीम , पाउडर और इस तरह की चीज़े बनाने वाली इस सेक्टर में रखा जाता है,
  7. Engineering & Capital Goods – इस सेक्टर में engineering इंडस्ट्रीज से सम्बंधित कंपनी जैसे – tools, मोटर्स और सभी तरह की औजार या छोटी बड़ी मशीन बनाने वाली कंपनी को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  8. Food & Beverages – सभी तरह खाने और पिने वाली प्रोडक्ट्स को बनाने वाले कंपनी कोइस सेक्टर में रखा जाता है,
  9. Information Technology – सभी तरह की कंप्यूटर और मोबाइल सॉफ्टवेर और इनफार्मेशन technology से सम्बंधित प्रोडक्ट्स बनाने वाली कंपनी को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  10. Manufacturing – सभी तरह की manufacturing कंपनी जैसे – कास्टिंग और फोर्जिंग, और अन्य मेटल और धातु proccess से सम्बंधित कंपनी को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  11. Media & Entertainment – इस सेक्टर में TV, सिनेमा, PRINT MEDIA और ऑनलाइन मीडिया से सम्बंधित कंपनी को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  12. Metals & Mining – मेटेल और MINING जैसे – स्टील और कोयला प्रोडक्ट्स बनाने वाली कंपनी को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  13. Oil & Gas – आयल और गैस प्रोडक्ट्स बनाने वाली कंपनी को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  14. Pharmaceuticals – सभी तरह की दवा बनाने वाली कंपनी को PHARMA सेक्टर में रखा जाता है,
  15. Retail & Real Estate – सभी तरह Retail & Real Estate जैसे – ट्रेडिंग और कंस्ट्रक्शन से सम्बंधित कम्पनी को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  16. Telecommunication – सभी तरह की टेलिकॉम कंपनी और मोबाइल ऑपरेटर को इस सेक्टर में रखा जाता है,
  17. Utilities – सभी तरह की पॉवर और इलेक्ट्रिक उत्पादन करने वाली कंपनी को इस सेक्टर में रखा जाता है,

इसके अलावा भी मार्केट में एक्सपर्ट लोग अपने हिसाब से खुद को knowledge base पे और भी बहुत सारे अलग अलग सेक्टर बताते है, 


अगर पोस्ट अच्छा लगा तो नीचे अपना कमेंट या सवाल जरुर लिखे,

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.