STOCK TRADING SOFTWARE www.sharemarkethindi.com

STOCK TRADING SOFTWARE क्या होता है?

Print Friendly, PDF & Email

STOCK TRADING SOFTWARE (TERMINAL)

STOCK TRADING SOFTWARE क्या होता है?

STOCK TRADING SOFTWARE का मतलब है, हमारे स्टॉक ब्रोकर द्वारा दिया जाने वाला सॉफ्टवेयर जिसकी मदद से हम स्टॉक को खरीदते या बेचते है,

आज दिनों दिन बढती टेक्नोलॉजी के ज़माने में किसी स्टॉक को खरीदना या बेचना बहुत ही आसान काम हो चूका है, आप अपने मोबाइल और कंप्यूटर कि मदद से जब चाहे, जहा से चाहे स्टॉक को खरीदने या बेचने का आर्डर दे सकते है, और ये आर्डर जितना जल्दी पॉसिबल हो, लगभग कुछ सेकंड्स में ही पूरा हो जाता है,

और इस तरह कुछ ही सेकंड्स में स्टॉक खरीदने और बेचने का काम संभव हुआ है, इन्टरनेट के इस्तेमाल और स्टॉक ब्रोकर द्व्रारा दी जाने वाली MOBILE APPS और LAPTOP/COMPUTER पर STOCK TRADING SOFTWARE कि मदद से,

और आज स्टॉक मार्केट पूरी तरह से इन्टरनेट से जुड़ा हुआ है, और आप हर पल मार्केट में होने वाले उतार चढाव को अपने इस STOCK TRADING SOFTWARE कि मदद से मोबाइल और कंप्यूटर दोनों पर ही देख सकते है,

STOCK TRADING SOFTWARE कितने प्रकार का होता है?

स्टॉक ब्रोकर द्वारा एक USER को शेयर खरीदने और बेचने के लिए STOCK TRADING SOFTWARE तीन तरह से दिया जाता है –

  • WEB BROWSER BASED TRADING
  • सिर्फ कंप्यूटर पर Stock Trading Terminal
  • Stock trading mobile apps.

आम तौर पर आजकल सभी स्टॉक ब्रोकर स्टॉक खरीदने के लिए आपको इन्टरनेट कि मदद से स्टॉक खरीदने और बेचने की तीन सुविधा देते है, ऐसे में आपको अपने स्टॉक ब्रोकर से ये पहले ही पता कर लेना चाहिए कि वो किस तरह के TRADING PLATFORM कि सुविधा दे रहा है,

और आप अपनी सुविधानुसार TRADING PLATFORM की मांग अपने स्टॉक ब्रोकर से कर सकते है,

STOCK TRADING SOFTWARE कैसे काम करता है?

जहा तक बात है कि STOCK TRADING SOFTWARE कैसे काम करता है, तो स्टॉक ब्रोकर द्वारा दिया जाने वाला TRADING PLATFORM , चाहे वो कंप्यूटर पर हो या मोबाइल पर, ये सभी सॉफ्टवेर प्रोग्राम, आम यूजर को एक USER INTERFACE देते है, जिसमे BUY और SELL का आर्डर भेजने के लिए कुछ COMMANDS का उसे करते है,

जैसे ही USER कोई BUY या SELL का आर्डर भेजता है, स्टॉक ब्रोकर उस आर्डर को यूजर के खाते में पर्याप्त रकम का ध्यान रखते हुए, उसे आर्डर को स्टॉक एक्सचेंज NSE या BSE तक भेज देता है,

और NSE या BSE जिनका काम है, स्टॉक खरीदने और बेचने के आर्डर को पूरा करना, वो पलक झपकते हुए स्टॉक की डिमांड और सप्लाई के अनुसार आर्डर को पूरा कर देते है,

और यूजर को स्टॉक ख़रीदे या बेचे जाने का कन्फर्मेशन उसके TRADING PLATFORM और मोबाइल पर SMS भेजकर कन्फर्म कर दिया जाता है,

 STOCK TRADING SOFTWARE को समझे?

जब आप पहली बार कोई स्टॉक खरीदने और बेचने जाते है, तो आपको अपने स्टॉक ब्रोकर द्वारा दी जाने वाली TRADING PLATFORM , चाहे वो कंप्यूटर पर हो या मोबाइल पर, ये सभी सॉफ्टवेर प्रोग्राम, उसे सिखने और समझने कि जरुरत होती है,

ताकि आप सही तरह से स्टॉक खरीदने और बेचने का आर्डर भेज सके, और साथ ही किसी तरह कि गलती होने पर आप अपने आर्डर में कुछ सुधार करके दुबारा से आर्डर भेज सके,

या आप आर्डर कैंसल करना चाहते है, STOP LOSS लगाना चाहते है, या कुछ FIXED PRICE पर शेयर को खरीदना चाहते है, तो ऐसे में आपको स्टॉक ब्रोकर द्वारा दी जाने वाली सॉफ्टवेयर को इस्तेमाल करने कि ट्रेनिंग ले लेनी चाहिए,

आजकल सभी स्टॉक ब्रोकर के ट्रेनिंग विडोज और इस्तेमाल करने कि विधि, TRADING PLATFORM चाहे वो कंप्यूटर पर हो या मोबाइल पर, ये सभी सॉफ्टवेर प्रोग्राम,आपको ONLINE वेबसाइट या YOU TUBE कि हेल्प से सिखने को मिल जाती है,

इस पोस्ट के समब्ध में आपके कुछ सवाल हो तो उसे नीचे जरुर लिखे,

पोस्ट पढने के लिए आपका ध्यन्यवाद


3 Comments

  1. Advisorymandi March 6, 2018
  2. nachiket bali October 17, 2018
  3. Epic Research October 27, 2018

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.