INVESTMENT से पहले सावधानी

Print Friendly, PDF & Email

INVESTMENT से पहले सावधानी- Things-to-care-before-investment

आज हम बात करने INVESTMENT से पहले सावधानी के बारे में,

दोस्तों, INVESTMENT के नाम पर बहुत सारी FAKE कंपनी भी बाजार में मौजूद  होती है, आपको  हमेशा इनसे बचके रहना है, INVESTMENTके नाम पर आपने अपने आस पास  के ऐसे बहुत से लोगो को देखा होगा, जिनके पैसे  कही ऐसी जगह फंस जाते है या डूब जाता है ,

आज हम इसी के बारे में बात करेंगे की कैसे आप इस तरह के बुरे INVESTMENT से बचे.

किसी भी तरह के INVESTMENT से पहले कुछ बातों पर ध्यान देना जरूरी हो जाता है, क्योंकि INVESTMENT आपके मेहनत से कमाए पैसे जुड़ा होता है, और कोई भी नहीं चाहता कि वो अपने मेहनत से कमाए पैसे को ,  किसी बुरे INVESTMENT में गवा दे,
इसलिए आप कोई भी INVESTMENT करने से पूर्व कुछ बातों का जरूर ध्यान रखें जैसे –

1. INVESTMENT के लिखित TERM AND CONDITION को समझना

सभी तरह के INVESTMENT के RISK के बारे में , उस INVESTMENT के TERM AND CONDITION में आमतौर से छोटे छोटे अक्षरों में लिखा होता है, आपको अपने INVESTMENT से जुड़े तरह के RISK के बारे में ध्यान से पढ़ना समझना होता है,

INVESTMENT बेचने वाली कंपनी के SALES PERSON की बातों पे ज्यादा भरोषा न करे, अक्सर SALES PERSON अपने पर्सनल फायदे यानी COMMISSION और SALES PRESSURE के लिए INVESTMENT से होने वाले फायदों को बढ़ा चढ़ाकर बताते है,और INVESTMENT से जुड़े RISK के बारे में ज्यादा बात नहीं करते, इसलिए आपको SALES PERSON की बातों और  INVESTMENT के DOCUMENT में TERM AND CONDITION दोनों को ध्यान से समझना होता है, अगर SALES PERSON जो कुछ भी कह रहा है, वैसी कोई बात टर्म एंड कंडीशन में नहीं दिखे, तो आपको ऐसे इन्वेस्टमेंट से बहुत सावधान रहना चाहिए,

2. INVESTMENT DOCUMENT SIGN करने से पहले उसे समझने के लिए थोड़ा सा वक्त जरुर ले 

कहते हैं दुर्घटना से देर भली, वैसे तो यह लाइन हमें और रोड में ट्रेवलिंग के समय पर देखने को मिलती है , लेकिन आपका INVESTMENT भी एक पैसे से पैसे बनाने का सफर है, जिसमें यदि सावधानी ना ली  जाए तो नुकसान होने की संभावना बढ़ जाती है, कहने का मतलब जब भी किसी  DOCUMENT पे आप SIGNATURE करे ,चाहे वो इन्वेस्टमेंट डॉक्यूमेंट हो या कुछ और ,तो थोड़ा समय उसे समझने के लिए जरूर लें,

कोई भी डॉक्यूमेंट SIGN कर देने का मतलब होता है, कि आपने उस DOCUMENT की सारी बातों को पढ़ और समझ लिया है, और उससे जुड़ी सारी बातों और RISK को  भी समझते हैं, लेकिन अक्सर ऐसा नहीं होता ज्यादातर लोग बिना पढ़े ही बस भरोसे पर DOCUMENT SIGN कर देते हैं,

एक बार आपने DOCUMENT बिना पढ़े ही SIGN कर दिया तो, याद रहे बाद में आप ये नहीं कह सकते की उस DOCUMENT में लिखे किसी बात को आपने नहीं पढ़ा था या नहीं समझा था, इसलिए हमारी कोशिश यही होनी चाहिए कि किसी भी तरह के DOCUMENT पे SIGNATURE से पहले DOCUMENT में लिखी  सारी बातों को समझने में थोडा वक्त जरुर ले,

DOCUMENT पढने और समझने के लिए थोड़ा समय जरुर लगता है,  थोड़ी देर ही सही  लेकिन इस तरह आप भविष्य में होने वाली किसी भी बड़ी मुसीबत से बच सकते हैं,

अगर POSSIBLE हो तो  आप DOCUMENT अपने पास रखकर आराम से पढ़ कर समझ लेना चाहिए , फिर आप SIGN कर सकते है. 

3. INVESTMENT OFFER को ध्यान से समझो,

आज आपको INVESTMENT से सम्बंधित काफी सारे CALLS, SMS आते है , या EMAIL, INTERNET, NEWSPAPER और TV या किसी अन्य  माध्यम से अलग अलग तरह के बहुत सटे INVESTMENT OFFER  देखने और सुनने को मिलते हैं, अगर आपको  कोई इन्वेस्टमेंट पसंद आता है और आप उसमें निवेश करना चाहते हैं तो थोड़ा वक्त उसी INVESTMENT OFFER को सही तरह से समझने के लिए जरूर दें, जिसमें आपको यह देखना होता है कि-

  1.  क्या वह इन्वेस्टमेंट पूरी तरह LEGAL है या नहीं, आपको हमेशा क़ानूनी रूप से वैध INVESTMENT ही करना है,
  2.  इंवेस्टमेंट ऑफर की HISTORY क्या है, कब से इस तरह के OFFER है और उनसे वास्तव में कितना लाभ प्राप्त हुआ है,
  3. जिन लोगों ने इन्वेस्टमेंट किया है उनका फीडबैक क्या है
  4. INVESTMENT करने वाली कंपनी की ऑफिस कहां कहां पर है, उसके खिलाफ कितने COMPLAINTS है, आप इसे इन्टरनेट पर भी चेक कर सकते है,
  5. इंटरनेट पर PRESENCE को फाइनल ना समझे, उस कंपनी के  MAIN ऑफिस या  LOCAL OFFICE पे अगर पॉसिबल हो तो जरूर VISIT करें,
  6. कैश पेमेंट से बचें हमेशा क्रॉस चेक जो डायरेक्ट कंपनी के नाम से हो उसका इस्तेमाल करें
  7. INVESTMENT में LIQUIDITY  कैसी है, यानी आप कितनी जल्दी से INVESTMENT को CASH में  बदल सकते हैं, इस बात का भी ध्यान रखे   

इस तरह आपको INVESTMENT करने से पूर्व INVESTMENT OFFER करने वाली कंपनी के OFFER और COMPANY की विश्वसनीयता और वास्तविकता दोनों के बारे में अच्छे से  रिसर्च के समझ लेना चाहिए ,फिर आप उसके बाद यह निर्णय करें कि आपको अपनी बहुत मेहनत से कमाए पैसे  उस कंपनी को देना चाहिए या नहीं क्योंकि कंपनी अच्छा रिटर्न देने का वादा कर रही है सिर्फ इस बात के लिए आप अपने पैसे उनके पास इन्वेस्ट नहीं कर सकते,

अंत में,

“अगर एक बार आप INVESTMENT करने का निर्णय लेते है तो कुछ और बातो का ख्याल जरुर रखे –

1. CASH में कोई भी PAYMENT न करे  

INVESTMENT करते समय किसी भी तरह के CASH PAYMENT से हमेशा बचे , आप PAYMENT करने से के लिए  हमेशा क्रॉस्ड चेक या बैंक डिमांड ड्राफ्ट का इस्तेमाल करे,

और चेक या ड्राफ्ट हमेशा कंपनी के नाम से  होना  चाहिए ,

कैश पेमेंट या किसी और के नाम से दिए चेक से धोखाधड़ी के चांस बढ़ जाते हैं, साथ ही साथ किये गए PAYMENT की RECEIPT जरुरु ले और भविष्य के लिए INVESTMENT DOCUMENT की  एक कॉपी अपने पास जरूर रखें,

2. INVESTMENT DOCUMENT को संभाल कर रखें,

INVESTMENT DOCUMENT को संभाल कर रखना जरूरी रखना जरूरी है, जिस से की आपको किसी भी तरह की अन्य परेशानी न हो और आप उस INVESTMENT से होने वाले पुरे लाभ को ले सके, अगर आपके पास DOCUMENT नहीं रहते तो इस स्थिती में आपको बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है,

और साथ ही साथ INVESTMENT में NOMINEE के ऑप्शन को भी जरूर ध्यान में रखें ताकि किसी भी आकस्मिक दुर्घटना की स्थिति में आपको इन्वेस्टमेंट के लाभ आपके घरवालो को  मिल सके ,जिसके लिए आपने इन्वेस्टमेंट किया है, आपको हर डॉक्यूमेंट की कॉपी और रिसीप्ट को भी एक फाइल में संभाल कर रखना चाहिए

6. इन्वेस्टमेंट रिव्यू-

समय समय पर आपको अपने INVESTMENT का एक विश्लेशण यानी REVIEW और ANYLSIS जरुर करते रहना चाहिए,  जिससे आपको INVESTMENT के PROGRESS का पता चल सके, अगर इंवेस्टमेंट आपके हिसाब से या आपके सोचने के अनुसार रिटर्न यानी लाभ नहीं दे रहा है, तो उसके बदले कोई दूसरा INVESTMENT करने का विकल्प सोचना चाहिए ताकि आपको LONG TERM में अपने इन्वेस्टमेंट से लाभ हो, और आप अपने फाइनेंसियल लक्ष्यों को पूरा कर सके.

Investment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.